जयपुर, जागरण संवाददाता। आजकल बच्चे सोशल मीडिया पर एक्टिव रहने लगे है। कुछ फेसबुक, इंस्टाग्राम पर ज्यादा एक्टिव हैं तो वहीं कुछ लोग टिक-टॉक पर भी एक्टिव है। आए दिन टिकटॉक पर वीडियो अपलोड हो रही है और लोग उसे पसंद भी कर रहें है। लेकिन टिक-टॉक पर ऐसी भी वीडियो अपलोड हो रही है जो लोगों को सोचने पर मजबूर कर दे रही है। राजस्थान के कोटा शहर में एक 12 साल के लड़के ने वीडियो शेयरिंग मोबाइल ऐप टिक-टॉक पर अपने वीडियो को सूट करने और अपलोड करने के क्रम में खुद को मौत के घाट उतार लिया।

राजस्थान के कोटा में एक बारह साल के बच्चे की कथित तौर पर टिक-टॉक विडियो बनाते समय मौत हो गई। कौशल नाम का यह बच्चा आठवीं कक्षा में पढ़ता था। उसका शव घर के बाथरूम में पाया गया और उसके गले में लोहे की चेन लिपटी थी। 

पुलिस ने बताया कि जब कौशल का शव बरामद किया गया तो परिजनों ने बताया कि वह अपने हाथों में चूड़ियां और गले में मंगलसूत्र पहने था। घरवाले उसे लेकर अस्पताल पहुंचे जहां डॉक्टरों ने कौशल को मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने इस मामले में केस दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी।  पुलिस ने बताया कि जांच के दौरान पता चला कि कौशल अपने मोबाइल पर कई सारे टिक-टॉक विडियो बनाता था। उस दिन भी वह विडियो बना रहा था। विडियो बनाने से पहले उसने चूड़ियां और मंगलसूत्र पहना लेकिन उसकी मौत हो गई। 

हालांकि पुलिस अभी इस बात की पड़ताल नहीं कर पाई है कि उसकी मौत कैसे हुई। कौशल के पिता ने बताया कि मरने से एक दिन पहले घर में मेहमान आए थे। कौशल को मोबाइल चलाने को नहीं मिला था तो वह बहुत परेशान था। वह पूरी रात जागकर मोबाइल से खेलता रहा। 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Preeti jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप