रंजन दवे, जोधपुर। कोरोना काल के बीच लॉकडाउन में जोधपुर  पुलिस की दबंगई देखने को मिली है ,जहां एक रेस्टोरेंट संचालक ने कुड़ी थाना पुलिस पर वर्दी की धौंस का आरोप लगाते हुए लॉकडाउन में बंद रेस्टोरेंट्स खुलवा कर खाना खाने और स्टाफ से मारपीट करने की शिकायत जोधपुर कमिश्नर जोस मोहन से की है। घटना 17 अप्रैल की रात की है , जहां जोधपुर की कुड़ी थाना पुलिस से जुड़े 6 लोग चिकन मटन की पार्टी करने पहुचे। पैसे का तकाजा करने पर उन्होंने रेस्टोरेंट स्टाफ के साथ हाथापाई की और हमेशा के लिए रेस्टोरेंट बन्द करने की धमकी भी दी है। घटना के उजागर होने के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के गृह नगर में पुलिस की गजब किरकिरी हो रही है। घटना के सीसीटीवी फुटेज भी सामने आए हैं।

लॉकडाउन के कारण बंद रेस्टोरेंट को आवाज देकर खुलवाया 

एक और लॉकडाउन में जहां पुलिस चालान बुक के जरिए बाजार बंद करवा रही है, तो वहीं दूसरी और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के गृह क्षेत्र में पुलिस वर्दी के जोर पर रेस्टोरेंट्स को खुलवा कर अपनी चिकन मटन की पार्टी कर रही है। जोधपुर के कुड़ी थाना क्षेत्र के झालामंड क्षेत्र स्थित जोधपुर चिकन कॉर्नर पर 17 अप्रैल की रात विनोद मीणा नाम के एक व्यक्ति सहित अन्य लोग पहुंचे जिसने लॉकडाउन के कारण बंद रेस्टोरेंट को आवाज देकर खुलवाया और खुद को पुलिस वाला बताते हुए खाना खाने के लिए बोला। 

वह घर पर था और बाहर का स्टाफ होने के कारण रेस्टोरेंट में

रेस्टोरेंट्स संचालक शेर सिंह के अनुसार लॉकडाउन के कारण वह अपने घर पर था और बाहर का स्टाफ होने के कारण वह रेस्टोरेंट में ही रहता है। इस कारण मौके पर मौजूद स्टाफ में दरवाजा खोल कर उन्हें अंदर आने दिया। लॉकडाउन में होटल खुलवाकर  उन्होंने चिकन मटन की पार्टी की। इसके बाद भुगतान की बारी आने पर पुलिस वालों ने अपनी वर्दी की दादागिरी जताते हुए पैसा देने में आनाकानी की और स्टाफ के साथ मारपीट कर उसके मुंह पर झूठा पानी गिरा दिया। इतना ही नहीं कुड़ी थाना स्टाफ ने हमेशा के लिए इस रेस्टोरेंट को बंद करवाने की धमकी दे डाली। 

मामले के सामने आने पर जोधपुर पुलिस की किरकिरी

दो दिन के लॉक डाउन पूरा होने पर रेस्टोरेंट्स संचालक ने इस पूरी घटना को जोधपुर कमिश्नर जोश मोहन से अवगत कराया और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।रेस्टोरेंट्स पर मौजूद स्टाफ भागीरथ के अनुसार दरवाजा नहीं खोलने पर उन्होंने अपने पुलिस होने की बात कही थी। इस वजह से ही दरवाजा खोला गया और बहुत देर तक पैसे का तकाजा करने पर उन्होंने मारपीट कर पांच सौ रुपये दिए  जबकि उनके चिकन मटन का बिल तकरीबन एक हजार रुपये हुआ था। घटना के सीसीटीवी फुटेज  भी सामने आए हैं। पूरे मामले के सामने आने पर जोधपुर पुलिस की जबरदस्त किरकिरी हो रही है।

इनका कहना है :-

कोई भी अवांछित आचरण या गलत गतिविधि पुलिस के द्वारा की जाती है तो निश्चित तौर पर उस पर गंभीरता से निर्णय किया जाएगा और यदि सही पाई गई तो निश्चित तौर पर कार्रवाई की जाएगी।

जोस मोहन, कमिश्नर पुलिस, जोधपुर

Edited By: Vijay Kumar