जोधपुर, रंजन दवे। हेलो, सीएम पुत्र वैभव गहलोत का करीबी बोल रहा हूं। ऐसा बोलकर शातिर ठग ने ऑडी कार के शो रूम में आकर पौने छह लाख की कार की ठगी को अंजाम दिया। वहीं मैनेजर को बदले मेंं दिया गए चेक अनादरित हो गया। इसके बाद एक अन्य मामला उजागर होने पर जोधपुर के बासनी थाना में पाली जिले के शातिर ठग सुरेश घांची के खिलाफ शो रूम संचालक की ओर से रिपोर्ट दर्ज करवाई गई है।

जोधपुर में गाडिय़ों के शोरूम में फोन पर कारों को उड़ाने वाले शातिर ठग सुरेश घांची के खिलाफ एक और प्रकरण सामने आया है। इस बार उसके खिलाफ इसमें ऑडी कार मैनेजर की तरफ बताया गया कि उसने सीएम पुत्र वैभव गहलोत का हवाला देने के साथ खुद को उसका करीबी बताया और सीधी बात करवाने का कहा था।

ऑडी मोटर प्राइवेट लिमिटेड के मैनेजर राजेंद्र चतुर्वेदी पुत्र दाउलाल की तरफ से दी रिपोर्ट में पाली के सुरेश घांची ने 24 अगस्त को फोन कर खुद को सीएम पुत्र वैभव गहलोत का परिचित होना बताया और ऑडी कार खरीदने की बात कही। इसके बाद 30 अगस्त को वह स्वयम कार लेेने पहुंचा। इस पर विश्वास कर मैनेजर ने ऑडी कार के कागजात की कार्रवाई के बाद उसे कार सौंप दी। बदले में पांच लाख पचहत्तर हजार का चैक दिया। जो अगले दिन अनादरित हो गया।

एक दिन पहले पाली के विधायक के नाम से कार उठाने का मामला सामने आने और शास्त्रीनगर थाना में मामला दर्ज होने के बाद ऑडी कार के शो रूम मैनेजर की ओर से शातिर ठग सुरेश घांची के खिलाफ बासनी थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई गई है। इधर आरोपी अभी शास्त्रीनगर पुलिस में रिमाण्ड पर चल रहा है।

बता दें कि शहर के शास्त्रीनगर इलाके के न्यू पावर हाउस रोड पर बने कार शोरूम (केडी मोटर्स) के मालिक के साथ ठगी की वारदात हो गई थी। ठगी करने वाला पाली का हिस्ट्रीशीटर निकला, जिसे पुलिस ने गिरफ्तार कर ठगी की कार बरामद के प्रयास किये हैं।

ठगी समेत दो दर्जन से अधिक दर्ज है मामले :

पाली कोतवाली के हिस्ट्रीशीटर सुरेश पर करीबन 30 से अधिक मामले ठगी व अन्य प्रकरणों के दर्ज है। जो कि शातिराना तरीके से हर बार लोगों को ऐसे ही ठगी करता है। इससे अब पुलिस उक्त दो कारों की बरामदगी के प्रयास में लगी है। वह अभी शास्त्रीनगर पुलिस की अभिरक्षा में चल रहा है। 

Posted By: Preeti jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस