उदयपुर, संवाद सूत्र। राजसमंद जिले के एक सरकारी स्कूल के शिक्षक पर छात्रों ने तंत्र-मंत्र कर डराने तथा अश्लीलता करने का आरोप लगाया। अभिभावकों ने भी अपने बच्चों का समर्थन कर गुरुवार को स्कूल पर ताला जड़ दिया। जिसके बाद विभाग ने शिक्षक को एपीओ कर दिया। मिली जानकारी के अनुसार मामला राजसमंद जिले के नाथद्वारा तहसील के उथनोल गांव स्थित राजकीय सीनियर सैकण्डरी स्कूल का है। जहां पढ़ने वाले छात्रों ने संस्कृत के शिक्षक नरेंद्र कुमार पर आरोप लगाया कि वह तंत्र-मंत्र के जरिए बच्चों को डराते हैं। उनके अश्लील हरकतों से सारे बच्चे परेशान हैं। गुरुवार को बच्चों ने इसकी जानकारी अपने अभिभावकों को दी तो वह सामूहिक रूप से स्कूल पहुंचे तथा स्कूल के मुख्य गेट पर ताला जड़कर आंदोलन शुरू कर दिया।

अभिभावकों ने स्कूल में जड़ा ताला

इस मामले की सूचना विभाग के अधिकारियों को लगी तो वह आनन-फानन में मौके पर पहुंचे। उन्होंने बच्चों तथा अभिभावकों से बातचीत की। बच्चों का कहना था कि उनके संस्कृत के टीचर की गलत हरकत व गलत भाषा के साथ उनके तंत्र-मंत्र के जरिए डराने वह भयभीत हैं। बताया गया कि उक्त शिक्षक के खिलाफ पूर्व में भी छात्र और उनके अभिभावकों ने शिकायत की थी। जिस पर स्कूल में दो जांच अधिकारियों की टीम भी आई थी लेकिन आरोपित शिक्षक के खिलाफ किसी तरह कार्रवाई नहीं की गई। कुछ दिन पहले दोबारा टीचर की गलत हरकतों की शिकायत मिली तो गांव वालों का गुस्सा फूट पड़ा। गुरुवार को उन्होंने स्कूल का घेराव कर उस पर ताला जड़ दिया था।

शिक्षक करता था अश्लील हरकत

प्रदर्शनकारी अभिभावकों में शामिल उथनोल के पूर्व सरपंच पुष्कर लाल जाट का कहना है कि संस्कृत के शिक्षक नरेंद्र के खिलाफ बच्चों ने अश्लील हरकतें करना, बच्चों को डराना-धमकाना, बच्चों में जातिगत गुटबाजी करवाना, बच्चों को तांत्रित विद्या से डराने-धमकाने जैसे आरोप पहले भी लगते रहे हैं। स्कूल में पांच सौ से अधिक बच्चे पढ़ते हैं लेकिन एक शिक्षक के चलते कई बच्चे स्कूल नहीं आते।

Edited By: Sonu Gupta