जयपुर, जागरण संवाददाता। हरियाणा में विधानसभा चुनाव को देखते हुए राजस्थान पुलिस सक्रिय हो गई है । हरियाणा से सटे अलवर, भरतपुर, झुंझुनूं और जयपुर जिलों में विशेष सुरक्षा बरती जा रही है। इन जिलों में अतिरिक्त सुरक्षा बल तैनात किया गया है। हरियाणा सीमा से सटे अलवर जिले में विशेष चौकसी बरती जा रही है। पिछले कुछ सालों में हरियाणा के अपराधियों के अलवर जिले में शरण लेने की बात सामने आई है।

उन्मादी हिंसा और गोतस्करी के मामलों में अलवर पूरे देश में बदनाम रहा है। अब हरियाणा विधानसभा चुनाव में इस तरह की घटनाएं होने की आशंका को देखते हुए पुलिस सक्रिय हो गई है। हाल ही में बने भिवाड़ी के नये पुलिस अधीक्षक कार्यालय की तरफ से 145 अपराधियों पर 3-3 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया है। इनमें से अधिकांश अपराधी हरियाणा और अलवर में सक्रिय रहते है। संभवतया यह पहला अवसर है जब राजस्थान में पुलिस ने एक साथ इतने अपराधियों पर इनाम घोषित किया है।

बहरोड़ पुलिस थाने के लॉकअप से भागे हरियाणा के मोस्टवांटेड अपराधी विक्रम सिंह उर्फ पपला अभी भी पुलिस की पकड़ से दूर है। राजस्थान के साथ ही हरियाणा पुलिस भी उसे तलाश करने में जुटी है। अपराधियों पर लगाम लगाने के लिए सक्रिय होने के साथ ही पुलिस ने अपने महकमें में भी सफाई अभियान चलाया है।

अलवर में पुलिसकर्मियों की अपराधियों से सांठगांठ को लेकर उच्च स्तर तक मिली सूचना के बाद भिवाड़ी जिला पुलिस अधीक्षक अमनदीप कपूर ने हरियाणा से सटे पांच पुलिस थानों के 312 कांस्टेबल और हैडकांस्टेबल के एक साथ तबादले किए है। उल्लेखनीय है कि उन्मादी हिंसा और गोतस्करी को लेकर पूरे देश में बदनाम हो चुके अलवर जिले को पुलिस के लिहाज से दो जिलों में बांटा गया है। इनमें एक अलवर और दूसरा भिवाड़ी है। 

Posted By: Preeti jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप