जयपुर, जेएनएन। Suicide In Kota. राजस्थान के कोटा में एक छात्र ने आत्महत्या कर ली। यह छात्र जेईई मेन प्रवेश की तैयारी के लिए कोटा में रुका हुआ था, लेकिन परीक्षा पास नहीं कर पाया। मृतक छात्र विजय उत्तर प्रदेश के गोरखपुर का रहने वाला है, उसके पिता का नाम रामगोपाल है।

छात्र कोटा के महावीर नगर प्रथम में एक हाॅस्टल में रहता था। शनिवार रात को वह खाना खाकर अपने कमरे में गया था। इसके बाद से रविवार शाम तक वह नजर नहीं आया। हॉस्टल संचालक ने जवाहर नगर थाना पुलिस को देर रात सूचना दी।

सूचना पर पहुंची पुलिस ने कमरे का दरवाजा तोड़कर अंदर प्रवेश किया तो छात्र पंखे से लटका हुआ मिला। परिजनों को उसके आत्महत्या करने की सूचना दी गई है। छात्र अभी किसी भी कोचिंग में नहीं था, बल्कि खुद पढ़ाई कर कर रहा था। परिणाम आने के बाद तनाव में था।

मेडिकल प्रवेश परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्र ने की आत्महत्या

राजस्थान के कोटा में मेडिकल प्रवेश परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्र रोहित ने गत 13 सितंबर, 2019 में आत्महत्या कर ली थी। इससे पहले भी एक छात्रा ने आत्महत्या की थी। रोहित भीलवाड़ा का रहने वाला था और एक माह से कोचिंग नहीं जा रहा था। उसका दोस्त उसका कार्ड पंच कर उसकी उपस्थिति लगा रहा था।

पुलिस के अनुसार, शहर के इंद्र विहार में रहकर तैयारी कर रहे रोहित ने फांसी लगाकर आत्महत्या की। रोहित का दोस्त एक माह से उसका कार्ड पंच कर रहा था और कोचिंग संस्थान को उसकी अनुपस्थिति की जानकारी नहीं मिली। मीडिया से बातचीत में रोहित के पिता ने कहा कि कुछ दिनों पहलेही रोहित से बात हुई थी। पढ़ाई में मन नहीं लगने के कारण उसे वापस आने के लिए भी कहा था। परिजनों ने यह भी आरोप लगाया कि रोहित कोचिंग नहीं जा रहा था, लेकिन कोचिंग संस्थान ने इस पर ध्यान नहीं दिया और न हमें सूचित किया।

राजस्थान की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Sachin Kumar Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस