राज्य ब्यूरो, जयपुर। Freedom Fighter: कोविड-19 के चलते राजस्थान सरकार इस बार राज्य के स्वतंत्रता सेनानियों का उनके घर जा कर अभिनंदन करेगी। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इस बारे में सभी जिला कलक्टरों को आदेश दिए हैं। राजस्थान में अभी 29 स्वतंत्रता सेनानी हैं। राजस्थान सरकार की ओर से हर वर्ष भारत छोड़ो आंदोलन की वर्षगांठ पर स्वतंत्रता सेनानियों का सम्मान किया जाता है। यह सम्मान जिलों में आयोजित कार्यक्रमों में ही होता है। इस बार कोविड-19 के चलते यह सम्मान उनके घर जा कर किया जाएगा। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि आज हम इन सभी स्वतंत्रता सेनानियों के कारण ही खुली हवा में सांस ले पा रहे हैं।

उन्होंने कहा कि देश के स्वतंत्रता संग्राम तथा भारत छोड़ो आंदोलन के जरिए देश को आजाद कराने में इन सभी ने अमूल्य योगदान दिया। उनके त्याग, समर्पण व देशप्रेम के जज्बे के सामने हम सभी नतमस्तक व कृतज्ञ हैं। इन्हीं की बदौलत हमारे देश में लोकतंत्र कायम हो सका। उनके प्रति सम्मान व्यक्त करना हम सबका दायित्व है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने निर्देश दिए हैं कि कोविड-19 व इन स्वतंत्रता सेनानियों की अधिक उम्र को दृष्टिगत रखते हुए संबंधित जिलों के जिला मजिस्ट्रेट अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट, उपखंड मजिस्ट्रेट घर पर जाकर उनका अभिनंदन करें। सभी वयोवृद्ध स्वतंत्रता सेनानियों को मुख्यमंत्री की ओर से प्रेषित शुभकामना संदेश प्रदान कर व अंगवस्त्र ओढ़ाकर उनका सम्मान किया जाएगा। 

गौरतलब है कि राजस्थान में कोरोना वायरस का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। प्रदेश में रविवार को कोरोना के 561 नए मामले सामने आए और नौ लोगों की मौत हो गई। राज्य स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि प्रदेश में कोरोना के कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 43,804 हो गई है, जिसमें से 12,391 मामले सक्रिय हैं। इलाज के बाद कुल 30,710 मरीजों को डिस्चार्ज कर दिया गया है और अब तक कोरोना से 703 लोग मारे गए हैं। 

Posted By: Sachin Kumar Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस