उदयपुर, जेएनएन। संभाग के सैकड़ों आदिवासियों को एक निवेशक कंपनी ने एफडी कराने के बाद उनकी जमा रकम हड़प ली। कंपनी ने लोगों ने कंपनी का संबंध प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल कलाम से बताकर उन्हें विश्वास लेकर ठग लिया। शिकायत मिलने पर उदयपुर के महानिरीक्षक ने

मामले में जांच के आदेश दिए हैं।

उदयपुर संभाग के पुलिस महानिरीक्षक प्रफुल्ल कुमार ने बताया कि संभाग के 29 आदिवासी निवेशकों ने हलधर ग्रुप ऑफ कंपनी और उसके प्रबंधकों के खिलाफ शिकायत की है। जिसमें बताया कि साल 2014 में इस कंपनी ने आदिवासी क्षेत्र में कदम रखा था और कंपनी का संबंध प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल कलाम से बताते हुए उन्हें गुमराह किया तथा पूंजी निवेश करने के साथ बांसवाड़ा में सस्ती दर पर भूमि आवंटन का प्लान उन्हें बताया। आदिवासियों को झांसे में लेने के लिए उन्होंने कुंभलगढ़ निवासी मांगीलाल तथा खेरवाड़ा के किशनलाल को अपनी कंपनी में शामिल कर लिया।

क्षेत्र के आदिवासी इनके झांसे में आसानी से आ गए। एफडी योजना पूरी होने के बाद जब वह जमा पूंजी वापस लेने उनके पास पहुंचे तो वह जल्द ही बांसवाड़ा में जमीन देने का वादा करते हुए टालते रहे और बाद में रफूचक्कर हो गए। बताया कि पिछले डेढ़ साल से वह निवेशक कंपनी के लोगों की तलाश में जुटे हैं लेकिन वह उन्हें नहीं मिल पा रहे। इनका कहना है दो दिन पहले 29 पीड़ित निवेशकों ने यहां आकर शिकायत की थी। मामले में उदयपुर एसपी और राजसमंद एसपी को जांच करने के निर्देश दिए हैं।

प्रफुल्ल कुमार, महानिरीक्षक-पुलिस, उदयपुर।

Posted By: Sachin Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप