जयपुर, नरेन्द्र शर्मा। करीब 4 माह बाद होने वाले राजस्थान विधानसभा चुनाव में कांग्रेस "जिताऊ "पर दांव लगाएगी । इस बार कांग्रेस के टिकट के लिए "ना तो उम्र का बंधन होगा और ना ही दो बार लगातार चुनाव हारने वालों को टिकट नहीं देने की पुरानी गाइड़ लाइन काम करेगी,बस जो चुनाव जीत सकेगा उसको प्रत्याशी बनाया जाएगा "।

तीन दिन पहले जयपुर में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के रोड शो और पार्टी प्रतिनिधियों की सभा के बाद अब कांग्रेस ने आक्रामक चुनाव अभियान चलाने की रणनीति तय की है। इसके तहत विधानभा चुनाव की आचार संहिता लागू होने से पहले राहुल गांधी प्रदेश के चार संभागों में बड़ी रैलियों को संबोधित करेंगे।

वहीं चुनाव आचार संहिता लागू होने के बाद राहुल गांधी की प्रदेश में 10 बड़ी सभाएं आयोजित कराने की पार्टी ने रणनीति बनाई है। कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव और प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे ने "दैनिक जागरण " से बातचीत में कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव में प्रत्याशी तय करने का काम प्रारम्भ हो गया है। सर्वे एजेंसियों के साथ ही कार्यकर्ताओं से संभावित प्रत्याशियों को लेकर फीडबैक लिया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि पार्टी का लक्ष्य "जिताऊ " प्रत्याशी को मैदान में उतारना है। 70 साल से अधिक उम्र के नेताओं और लगातार दो बार चुनाव हारने वालों को टिकट नहीं देने की पार्टी की पुरानी गाइड लाइन को लेकर पांडे ने कहा कि पार्टी का एकमात्र लक्ष्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनाना है। इसके लिए यदि 70 साल से अधिक उम्र के नेता भी चुनाव जीतने की क्षमता रखते होंगे तो उन्हे भी टिकट दिया जाएगा। एक सवाल के जवाब में पांडे ने कहा,लगातार दो बार चुनाव हारने वालों को भी उसी शर्त पर टिकट दिया जाएगा जो कि आगामी चुनाव में जीतने की क्षमता रखते होंगे।

सभी संभागों में होगी राहुल गांधी की सभाएं

तीन दिन पहले जयपुर में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के रोड शो और सभा के बाद अब कांग्रेस आगामी विधानसभा चुनाव से पहले भरतपुर,बीकानेर,कोटा और जोधपुर संभाग में राहुल गांधी की सभाएं आयोजित कराने पर विचार कर रही है । इस बारे में अधिकारिक रूप से अगले दो-दिन में कार्यक्रम तय हो जाएगा। राष्ट्रीय महासचिव अविनाश पांडे ने बताया कि पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत,पीसीसी अध्यक्ष सचिन पायलट और पूर्व केन्द्रीय मंत्री डॉ.सी.पी.जोशी संयुक्त रूप से जिलों की यात्राएं कर पार्टी कार्यकर्ताओं से संवाद करने के साथ ही आम मतदाताओं से भी रूबरू होंगे।  

Posted By: Preeti jha