जयपुर, जागरण संवाददाता। राजस्थान के नागौर में शनिवार को बस और कार में हुई आमने-सामने की टक्कर में तीन सगे भाइयों सहित पांच लोगों की मौत हो गई। दुर्घटना में घायल दो लोगों का जोधपुर अस्पताल में इलाज चल रहा है। बस लोक परिवहन की थी और उसकी रफ्तार काफी तेज थी। सदर पुलिस थाना अधिकारी त्रिलोक वर्मा ने बताया कि दुर्घटना जोधपुर हाइवे पर चिमरानी गांव के पास हुई। कार में सवार सभी लोग रिश्तेदार की मौत पर शोक सभा में शामिल होकर लौट रहे थे। दुर्घटना इतनी भीषण थी कि कार पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई। दुर्घटना में संजू, राहुल, सीता और भालीराम की मौके पर ही मौत हो गई। अजय ने इलाज के लिए अस्पताल ले जाते समय रास्ते में दम तोड़ दिया। ज्योति और दयालाराम घायल हो गए, जिनका जोधपुर के मथुरादास माथुर अस्पताल में इलाज चल रहा है। मृतकों के शव पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिए गए हैं। कार में सवार सभी लोग सुबह सोयला गांव जाने के लिए निकले थे। बस जोधपुर से नागौर होते हुए बीकानेर जा रही थी। हाइवे पर चिमरानी गांव के पास बस और कार में आमने-सामने की टक्कर हो गई। हादसा तेज रफ्तार और कोहरे के कारण हुआ बताया जा रहा है। घटना के बाद काफी देर तक हाइवे पर जाम लग गया। पुलिस ने क्षतिग्रस्त वाहनों को हटाकर यातायात सुचारू किया।

गौरतलब है कि इससे पहले इसी माह अजमेर संभाग के भीलवाड़ा जिले के रायला थाना क्षेत्र के बेरा चौराहे के निकट ट्रक व कार की भिड़ंत में चार लोगों की मौत हो गई थी। हादसे में मारे गए लोग रेलमगरा के रहने वाले थे। रायला पुलिस थाना क्षेत्र के बेरा के निकट ट्रक और कार में भिड़ंत हो गई। हादसे में कार के परखच्चे उड़ गए। कार में सवार एक महिला और तीन पुरुषों की मौके पर मौत हो गई। हादसे में मारे गए लोगों में प्रताप पुत्र सूरजमल गाडरी उम्र 60 वर्ष, सोहनी पत्नी प्रताप गाडरी उम्र 58 वर्ष, देबी लाल पुत्र प्रताप गाडरी उम्र 28 वर्ष निवासी अमरपुरा व देबीलाल पुत्र अमरा गाडरी उम्र 65 वर्ष निवासी राजपुरा, दरीबा तहसील रेलमगरा जो देर रात जयपुर से अपने घर रेलमगरा जा रहे थे। रायला थाना प्रभारी सुनील चौधरी ने बताया कि भीलवाड़ा की ओर से जा रहे ट्रक के सामने अजमेर की ओर से आ रही कार डिवाइडर को तोड़ते हुए ट्रक में जा घुसी। हादसे में कार पूरी तरह चकनाचूर हो गई। कार में चार लोग सवार थे, उनकी मौके पर ही मौत हो गई थी। 

Edited By: Sachin Kumar Mishra