जागरण संवाददाता, जयपुर। राजस्थान के सीमावर्ती श्रीगंगानगर में कर्ज के परेशान किसान ने नहर में छलांग लगाकर आत्महत्या कर ली। किसान का शव अभी तक मिला नहीं है । पुलिस और ग्रामीण नहर में उसकी तलाश में जुटे हुए हैं। ग्रामीणों की मानें तो आत्महत्या करने वाला किसान काफी समय से कर्ज से परेशान था। उसके खेत में पिछले दो साल से अच्छी नहीं हो रही थी और जो फसल हो रही थी उसके सही दाम नहीं मिल रहे थे। इस कारण उसने बैंकों से कर्ज लिया था।

जानकारी के अनुसार, किसान के आत्महत्या करने की घटना श्रीगंगानगर जिले के श्रीविजय नगर इलाके में शनिवार देर शाम को हुई। यहां 32 वर्षीय किसान दिलीप कुमार 399 आरडी 3 जीएम गोमावाली के पास नहर में छलांग लगा दी। सूचना पर ग्रामीण मौके पर पहुंचे और पुलिस को सूचना दी। सरपंच अर्जुन गोदारा ने बताया कि दिलीप कुमार कर्ज के कारण पिछले कुछ दिनों से परेशान चल रहा था। संभवतया आत्महत्या करने का कारण भी कर्ज ही रहा होगा। फिलहाल, पुलिस को कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। श्रीगंगानगर में एक माह में किसान द्वारा आत्महत्या करने का यह तीसरा मामला है।

उल्लेखनीय है कि हाल ही में हाईकोर्ट ने किसानों की आत्महत्या के मामले को लेकर चिंता जताई थी। इस मामले को लेकर रामपाल जाट ने एक जनहित याचिका दायर की थी। इस पर कोर्ट ने केंद्र व राज्य सरकार से विस्तृत रिपोर्ट भी मांगी है। 

Posted By: Sachin Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप