जागरण संवाददाता, जयपुर। करीब 14 हजार करोड़ रुपये के आदर्श क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी घोटाला मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने छह राज्यों में 1489 करोड़ रुपये की चल और अचल संपति अटैच की है। सोसायटी के संचालक मुकेश मोदी, वीरेंद्र मोदी सहित अन्य के बैंक खातों को भी सीज कर दिया गया है। ईडी ने यह कार्रवाई सोमवार शाम को की।

ईडी ने राजस्थान, हरियाणा, गुजरात, महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश में संपतियां अटैच की हैं। सोसायटी का मुख्यालय राजस्थान के सिरोही में है। ईडी से मिली जानकारी के अनुसार धन शोधन अधिनियम-2002 के तहह आदर्श क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी की 1489 करोड़ की संपति अटैच की गई है। इनमें 1464.76 करोड़ रुपये मूल्य के भूमि-भवन और 24 करोड़ रुपये के बैंक खाते अटैच किए गए हैं। ये बैंक खाते मुकेश मोदी, वीरेंद्र मोदी, कमलेश मोदी और उनके परिजनों के नाम पर हैं। आदर्श को-ऑपरेटिव सोसायटी की सहयोगी कंपनी की कुछ संपति को भी अटैच किया गया है।

उल्लेखनीय है कि मोदी परिवार ने सिरोही में सोसायटी का कार्यालय स्थापित कर देश के 28 राज्यों और चार केंद्र शासित प्रदेशों में 806 शाखाएं खोली थीं। इनमें से 309 शाखाएं राजस्थान में खोली गई थीं। सोसायटी के 20 लाख सदस्य बनाए गए। इनमें 10 लाख से अधिक निवेशक शामिल हैं। इन्होंने निवेशकों के धन का दुरुपयोग करते हुए परिजनों को लोन बांट दिया। रकम निवेशकों को तय समय पर वापस नहीं की गई। इस पर निवेशकों की शिकायत के बाद मुकेश मोदी, वीरेंद्र मोदी एवं अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किय गया। राजस्थान एसओजी ने मामले की जांच की। इस मामले में मोदी बधुओं सहित आधा दर्जन लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है।

वहीं, ईडी ने कहा कि वह मुंबई में हाउसिंग डेवलपमेंट एंड इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड (एचडीआइएल) के चेयरमैन राकेश वधावन और उनके बेटे सारंग वधावन के दो ठिकानों पर छापामारी की है। पंजाब एवं महाराष्ट्र कोआपरेटिव (पीएमसी) बैंक जालसाजी मामले में नई जानकारी सामने आने के बाद केंद्रीय एजेंसी ने यह कदम उठाया है। ईडी ने एक और जेट और याच एचडीआइएल प्रमोटरों के नाम से पंजीकृत पाया है।

राजस्थान की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस