जयपुर, नरेन्द्र शर्मा। पाकिस्तान में 25 जुलाई को होने वाले आम चुनाव में जीत की दुआ भारत में हो रही है । यह बात सुनने में बड़ा अजीब भले ही लगता हो, लेकिन यह सच है। पाकिस्तान के आम चुनाव में मैदान में खड़े प्रत्याशी अपनी जीत की दुआ के लिए अजमेर स्थित विश्व प्रसिद्ध ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह में हाजिरी भेज रहे है।

चुनाव में जीत होने पर अजमेर शरीफ आकर शुक्रराना अदा करने की भी इच्छा जताई जा रही है । दुनिया भर में अमन चैन का संदेश देने वाले सूफी संत ख्वाजा गरीब नवाज की दरगाह में पाकिस्तान के राजनीतिज्ञ अपनी जीत के लिए अपने खादिमों के जरिए मन्नती धागा बंधवा रहे है ।

यह माना जाता है कि गरीब नवाज की दरगाह में दिल से मांगी गई हर मुराद पूरी होती है फिर चाहे वो पारिवारिक हो, व्यक्तिगत हो या फिर किसी भी तरह की क्यों ना हो । यही कारण है कि इस बार पाकिस्तान में होने वाले आम चुनाव में जीत के लिए वहां से सियासतदानों ने भारत का रुख किया है । उन्होंने अपने खादिमों के जरिए यहां जीत की चिठ्ठियां बतौर मुराद के लिए लगवा रहे है ।

दरगाह दीवान सैयद जैनुल आबेदीन अली खान और खादीम रियाजुद्दीन शेख का कहना है कि हर बार की तरह इस बार चुनाव में भी पाकिस्तान के नेता दरगाह में मन्नती धागा बंधवा रहे है ।

उर्स में शामिल होते है दुनियाभर के जायरीन

ख्वाजा साहब की दरगाह में हर साल होने वाले उर्स में शामिल होने के लिए देश-विदेश के जायरीन बड़ी संख्या में अजमेर पहुंचते है । कई सालों बाद इस बार पाकिस्तानी जायरीन उर्स में शामिल नहीं हो सके थे। कुछ जायरीन तो उर्स सम्पन्न् होने के बाद भी अजमेर में रहकर ख्वाजा साहब के हाजिरी लगाते रहते है।  

Posted By: Preeti jha