उदयपुर, जेएनएन। एक युवक ने पहले दो भाइयों की हत्या की और बाद में खुद ही फरियादी बनकर थाने पहुंच गया। सिर से बहते खून को देखकर पुलिस तत्काल उसे अस्पताल लेकर पहुंची तो वहां माजरा ही अलग नजर आया। पता चला कि जिस युवक का उपचार कराने वह लाए हैं, उसने पहले दो भाइयों की हत्या की और अपना सिर दीवार से फोड़ने के बाद थाने पहुंचा था।

मामला उदयपुर शहर के मुखर्जी चौक स्थित कुंजरवाड़ी का है। जहां मंगलवार देर रात किराएदार युवक वसीम की अपने मकान मालिक अशरफ हुसैन (50) पुत्र मोहम्मद हुसैन, उसके छोटे भाई लाल मोहम्मद (45) और अली असगर के बीच कहासुनी हो गई थी। तब वह समाज के किसी कार्यक्रम से अपने घर लौट रहे थे। घर के दरवाजे पर पहुंचने पर वसीम ने उन्हें ऊपर जाने से रोका और उसी बात को लेकर उनमें बहस शुरू हुई थी। वसीम की मां और बहन भी झगड़े में शामिल हो गए। दोनों परिवारों के बीच झगड़ा इतना बढ़ गया कि वसीम ने तीनों

भाइयों पर चाकू से ताबड़तोड़ वार कर दिए। इसके बाद वसीम ने अपना सिर दीवार से मारकर खुद को घायल कर लिया और अंबामाता थाने पहुंच गया।

इधर, हमले में घायल अशरफ की मौके पर मौत हो गई, जबकि पड़ोसी घायल लाल मोहम्मद और अली असगर को एमबी अस्पताल ले गए, जहां लाल मोहम्मद की भी मौत हो गई। हमले में घायल असली असगर की हालत भी गंभीर बनी हुई है। इधर, थानाधिकारी छगन पुरोहित ने बताया कि अशरफ के पिता ने वसीम को मकान किराए पर दिया था। पिछले कई सालों से वसीम परिवार सहित ग्राउंड फ्लोर पर रहता था, जबकि अशरफ

फर्स्ट फ्लोर पर। अशरफ को ग्राउंड फ्लोर पर निर्माण कार्य करवाना था और इसके लिए उसने वसीम से मकान खाली करने के लिए कहा था, जबकि वसीम मकान खाली नहीं कर रहा था। इसी बात पर दोनों परिवारों के बीच आए दिन झगड़ा होता रहता था।

पुलिस को गुमराह करने हमलावर आरोपी वसीम ने खुद का सिर दीवार पर मारकर घायल किया और खूनाखून होकर पीड़ित बनकर थाने रिपोर्ट दर्ज करवाने पहुंच गया। हालांकि जब पुलिस उसे हॉस्पिटल लेकर गई और मौके पर पहुंची तो उसे माजरा पता चला कि थाने पहुंचा युवक पीड़ित नहीं, बल्कि आरोपित है। बुधवार सुबह अशरफ के चचेरे भाई मोहम्मद सिद्दिकी ने वसीम, उसकी मां, बहन के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कराया। घटना के विरोध में बुधवार सुबह क्षेत्रवासियों ने कलेक्ट्री के बाहर प्रदर्शन किया और नामजद सभी आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग की। 

Posted By: Sachin Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप