जयपुर, जेेएनएन। surgery. राजस्थान में जयपुर के सरकारी सवाई मान सिंह अस्पताल के प्लास्टिक सर्जरी विभाग के डाॅक्टरों ने 39 वर्ष के एक व्यक्ति को बहुत बड़ी परेशानी से मुक्ति दिलाई है। इस व्यक्ति का जननांग बचपन में किसी ने काट दिया था। यहां के डाॅक्टरों ने इस व्यक्ति के शरीर के अन्य हिस्सों की त्वचा लेकर लगभग प्राकृतिक जैसा लगने वाला जननांग तैयार कर लगाया है। राजस्थान में यह अपनी तरह का पहला ऑपरेशन बताया जा रहा है। इस ऑपरेशन में करीब सात घंटे लगे। अब मरीज पूरी तरह सामान्य है और उसे अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया है।

सवाई मान सिंह अस्पताल के प्लास्टिक सर्जरी विभाग के विभागाध्यक्ष डाॅ. आरके जैन ने बताया कि गौतम दत्तो नाम का यह व्यक्ति पश्चिम बंगाल का रहने वाला है। बचपन में किसी पारिवारिक विवाद में किसी ने चाकू से इसका जननांग काट दिया था। काटने के बाद करीब दो सेंटीमीटर का ही हिस्सा बचा था। डाॅ जैन ने बताया कि यह बड़ा दुखी हो कर आया था। हमने इसकी पूरी जांच की और देखा तो लगा कि कुछ किया जा सकता है। हमने मरीज की बाएं हाथ की त्वचा रेडियल आरटरी, वेन्स आदि लेकर बिल्कुल प्राकृतिक जैसा दिखने वाला जननांग तैयार किया और माइक्रोसर्जरी द्वारा पेट की आरटरी तथा जांघ की नसों से जोड़ा गया।

यह ऑपरेशन 15 दिन पहले किया गया था। करीब सात घंटे तक तक ऑपरेशन चला। ऑपरेशन के बाद मरीज को गहन देखरेख में रखा गया। अब इसके जननांग ने सामान्य ढंग से काम करना शुरू कर दिया है। आज मरीज को अस्पताल से डिस्जार्च कर दिया गया है। डाॅ जैन का कहना है कि प्लास्टिक सर्जरी की आधुनिक तकनीकें काफी काम की हैं और इनसे कई गंभीर विकारों को दूर करने में सहायता मिल रही है। ऑपरेशन में डाॅ राजीव शर्मा और रजनी माथुर ने एनिस्थिसिया दिया और डाॅ विकास, साकेत, प्रतीक, विकेश तथा डाॅ कुशल ने सहयोग दिया।

राजस्थान की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sachin Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस