जागरण संवाददाता, जयपुर। राजस्थान में लगातार चौथे दिन तेज बारिश का दौर शनिवार को भी जारी रहा। बारिश के कारण अब तक 10 लोगों की मौत होने की बात सामने आई है। प्रदेश के विभिन्न जिलों में एक दर्जन बांध टूटने के कारण निचले इलाकों में पानी ही पानी हो गया। लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने के लिए सरकार ने जिला कलेक्टरों को निर्देश दिए। कोटा में मूसलाधार बारिश के कारण कोटा बैराज के तीन गेट खोले गए। इनसे 11 हजार क्यूसेक पानी चंबल नदी में छोड़ा गया। जयपुर जिले के चाकसू में शुक्रवार रात तालाब टूटने से कई गांवों में पानी भर गया।

शनिवार को लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया। लोग अपने आवश्यक सामान और मवेशियों को लेकर आपदा प्रबंधन राहत दल के साथ स्कूलों और धर्मशालाओं में बने अस्थाई आश्रय स्थलों में पहुंचे। जयपुर जिले में बस्सी तहसील के ईसरवाड़ा गांव में शुक्रवार दोपहर आई तेज बारिश से सरकारी स्कूल पानी से बुरी तरह घिर गया। उस समय स्कूल में 150 बच्चे और पांच शिक्षक थे। करीब 15 घंटे बाद शनिवार सुबह इन बच्चों और शिक्षकों को आपदा प्रबंधन दल के सदस्यों ने सुरक्षित बाहर निकाला।बस्सी का जयपुर से संपर्क पूरी तरह से कट गया है। यहां पिछले 24 घंटे से बिजली बंद है। टोंक जिले के दतावास में बाढ़ का कहर जारी है। पिछले 15 घंटे में आसपास के गांवों और कस्बों में पानी भर गया। यहां एक बांध टूटने के कारण चारों तरफ पानी ही पानी हो गया। यहां आठ मकान गिरने की सूचना है।

कई इलाकों में हालात विकट हुए

सीकर, टोंक, झुझुनू और जयपुर जिले के चाकसू में हालात विकट होते जा रहे हैं। इन क्षेत्रों में बाढ़ के हालात बने हुए हैं। मौसम विभाग ने अजमेर, बारां, भीलवाड़ा, बूंदी, चित्तौड़गढ़, डूंगरपुर, जयपुर, झालावाड़, करौली, कोटा, प्रतापगढ़, राजसमंद, सवाईमाधोपुर, टोंक, सिरांही, उदयपुर और बीकानेर जिलों में अगले तीन दिन में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। पूरे प्रदेश में पिछले तीन दिन से चल रहे बारिश के दौर के कारण तापमान में चार से पांच डिग्री की गिरावट दर्ज की गई है। राजस्थान समेत विभिन्न इलाकों में हो रही भारी बारिश के कारण ट्रेनों का संचालन प्रभावित हुआ है। उत्तर पश्चिम रेलवे ने शनिवार को आठ ट्रेन को रद्द करने के साथ ही आधा दर्जन ट्रेनों का मार्ग बदला है। रेलवे के अनुसार, जो ट्रेनें रद हुई हैं उनमें 54085 दिल्ली-रेवाड़ी,45086 रेवाड़ी-दिल्ली,74003 दिल्ली-रेवाड़ी,51973 मथुरा-दिल्ली,51974 जयपुर-मथुरा,71903 ईदगाह-बादीकुई और 71904 बांदीकुई-ईदगाह शामिल है।

भारी बारिश से हुई इनकी मौत

भारी बारिश के कारण सीकर में अब तक हुए हादसों में पांच लोगों की मौत हो चुकी है  इनमें राजस्थानी कलाकार संजय कुमार नट शामिल हैं। पानी के कालाकोट गांव में मवेशी चरा रहे तीन भाइयों की तालाब में डूबने से मौत हो गई। झुझुनू और सवाई माधोपुर में एक-एक व्यक्ति की मौत की खबर है।  

राजस्थान की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Sachin Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप