उदयपुर, जेएनएन। नगर निगम चुनाव को लेकर उदयपुर में माकपा, भाकपा-माले, भाकपा और आप ने हाथ मिला लिया है। चारों पार्टी एक-दूसरे की पार्टी के प्रत्याशियों का समर्थन करेंगे। चारों पार्टियों ने रविवार को सत्रह उम्मीदवारों की सूची जारी की है। ये सभी सोमवार को सामूहिक रैली के साथ रवाना होंगे तथा नामांकन भरेंगे। इससे पहले शिराली भवन में चारों पार्टियों के नेताओं की बैठक हुई।

माकपा के शहर सचिव राजेश सिंघवी ने बताया कि माकपा उम्मीदवार शहर के वार्ड 14, 16, 25 और 41, भाकपा माले के उम्मीदवार वार्ड 23 और 68, भाकपा के 9 और 27, आम आदमी पार्टी (आप) के उम्मीदवार 2, 46, 51, 55, 59, 67, 68 और 69 तथा वार्ड 45 से मोर्चे का समर्थित प्रत्याशी मैदान में उतरा जाएगा।

संयुक्त मोर्चे की बैठक में तय किया गया कि उनके किसी पार्षद के खिलाफ किसी तरह की शिकायत मिली और दस फीसद वोटरों ने जांच की मांग की तो उसके खिलाफ मोर्चा जांच करेगा और दोषी पाए जाने पर उसे पद से इस्तीफा देना होगा। इसके लिए मोर्चा विजयी पार्षद के वार्ड में शिकायत केन्द्र लगाएगा। जहां पार्षद एवं नगर निगम के अधिकारी की उपस्थिति अनिवार्य रहेगी।

मोर्चें की बैइक में माकपा के शहर सचिव राजेश सिंघवी, भाकपा के जिला सचिव सुभाष श्रीमाली, भाकपा-माले के शंकरलाल चैधरी, सौरभ नरुका, आम आदमी पार्टी के शहर अध्यक्ष हनीफ मोहम्मद, प्रवक्ता भारत कुमावत मोहम्मद नौशाद दीवान, जनता दल (सेक्युलर) के रामचंद्र सालवी, विजेंद्र चैधरी, रामचंद्र, अनिल पानोत, रंजीन्त सिंह, मनोहर खान, हिम्मत छानवान आदि मौजूद थे। 

गौरतलब है कि राजस्थान में 49 नगरीय निकायों के चुनाव हो रहे हैं। राजस्थान में 16 नवंबर को 49 निकायों के लिए वोट पड़ेंगे। इसके लिए नामांकन भरने का काम जारी है। सभी सियासी दलों ने चुनाव प्रचार की रणनीति तैयार कर ली है। अभी से सभी दल इस चुनाव में अपनी-अपनी जीत का दावा कर रहे हैं।

राजस्थान की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sachin Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप