जयपुर, जेएनएन। राजस्थान की कांग्रेस सरकार राजस्थान रत्न पुरस्कार फिर से देना शुरू करेगी। यह पुरस्कार कांग्रेस सरकार ने अपने पिछले कार्यकाल में शुरू किए थे, लेकिन भाजपा सरकार ने इन्हें बंद कर दिया था। अब सरकार बदलने के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने यह पुरस्कार फिर से शुरू करने की घोषणा की है।

राजस्थान में कांग्रेस ने पिछले कार्यकाल में कला, साहित्य एवं संस्कृति समेत विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय कार्य करने वाली विभूतियों को राजस्थान रत्न पुरस्कार देना शुरू किया था। प्रदेश की पांच विभूतियो को यह पुरस्कार दिए जाते थे। पूर्ववर्ती बीजेपी सरकार ने इन्हें रोक दिया। राजस्थान दिवस के मौके पर सीएम अशोक गहलोत ने राजस्थान रत्न अवॉर्ड फिर से शुरू करने की घोषणा की।

गहलोत ने राजस्थान स्थापना दिवस पर राजधानी जयपुर के बिड़ला सभागार में आयोजित समारोह में कहा कि जब वे दूसरी बार प्रदेश के मुख्यमंत्री थे तब उल्लेखनीय कार्य करने वाली विभूतियों को राजस्थान रत्न अवॉर्ड दिया जाता था लेकिन पिछली सरकार ने यह अवॉर्ड देना बंद कर दिया। राजस्थान रत्न के हकदारों की प्रदेश में कोई कमी नहीं है. सरकार यह अवॉर्ड फिर से शुरू करेगी।

Posted By: Preeti jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस