जागरण संवाददाता, जयपुर। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) से चुनाव जीतकर कांग्रेस में मंत्री बनने और दरी बिछाने का समय आने पर निकलने वाले बयान पर राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार के मंत्री राजेंद्र गुढ़ा विवाद में फंस गए हैं। कांग्रेस के नेताओं ने गुढ़ा पर निशाना साधा है। कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम ने ट्वीट कर कहा कि पार्टी मां की तरह होती है और किसी को भी पार्टी का अपमान करने की छूट नहीं दी जा सकती और वह भी मंत्री को जो कांग्रेस सरकार में शामिल है। मुख्यमंत्री को इस मामले में संज्ञान लेना चाहिए। पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट समर्थक प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व सचिव सुशील आसोपा ने ट्वीट कर कहा कि राजेंद्र गुढ़ा बसपा से आकर मंत्री पद के लिए हमें गाली दें, लेकिन हम हमारी कांग्रेस के लिए दरी बिछाकर गर्व महसूस करते हैं। राजस्थान के कुछ नेताओं ने गुढ़ा के बयान की शिकायत कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव अजय माकन से की है।

जानें, क्या कहा था राजेंद्र गुढ़ा ने

अपने बयानों को लेकर विवादों में रहने वाले राजस्थान सरकार के ग्रामीण विकास राज्यमंत्री राजेंद्र सिंह गुढ़ा का अब एक और विवादास्पद बयान सामने आया है। गुढ़ा का एक वीडियो शुक्रवार को इंटरनेट मीडिया पर वायरल हुआ है, जिसमें वह एक सभा में भाषण देते हुए सुनाई दे रहे हैं। इसमें वह कह रहे हैं कि मैं बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के टिकट पर चुनाव जीतता हूं और कांग्रेस सरकार में मंत्री बनता हूं । जब कांग्रेस में दरी उठाने का वक्त आता है तो फिर मैं चला जाता हूं। कह देता हूं संभालों अपनी कांग्रेस। इसके बाद फिर चुनाव होते हैं तो मैं फिर बहनजी (मायावती) से टिकट लेकर आ जाता हूं । चुनाव जीत कर कांग्रेस सरकार में मंत्री बन जाता हूं। हालांकि, दैनिक जागरण उनके वीडियो की सत्यता की पुष्टि नहीं करता है। वीडियो में वह यह कहते हुए भी सुनाई पड़ रहे हैं कि ऐसा दूसरी बार हुआ है कि मैंने बसपा के चिह्न पर चुनाव लड़ा और जीतकर कांग्रेस सरकार में मंत्री बना। बताया जाता है कि गुढ़ा ने उक्त बयान गुरुवार शाम को अपने निर्वाचन क्षेत्र उदयपुरवाटी में लोगों को संबोधित करते हुए दिया था। कुछ दिन पहले ही गुढ़ा ने अपने निर्वाचन क्षेत्र के लोगों के बीच लोक निर्माण विभाग के मुख्य अभियंता से कहा था कि मेरे इलाके में कट्रीना कैफ के गालों जैसी सड़क बननी चाहिए। हालांकि, गुढ़ा के बयान पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने नसीहत देते हुए कहा था कि सबको मर्यादा का पालन करना चाहिए । गुढ़ा विधानसभा में दो बार कह चुके हैं कि हम तो बसपा में पैसे देकर टिकट लेकर आते हैं। राज्य में बसपा के टिकट पर चुनाव जीते सभी छह विधायक कांग्रेस में शामिल हो गए थे। गुढ़ा में भी उनमें शामिल थे।

Edited By: Sachin Kumar Mishra