जागरण संवाददाता, जयपुर। police inspector. राजस्थान में जयपुर के करणी विहार पुलिस थाने में बुधवार को एक महिला ने पुलिस इंस्पेक्टर के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया है। 34 वर्षीय महिला ने झुंझुनूं में तैनात पुलिस इंस्पेक्टर कंवरपाल सिंह के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है।

महिला ने आरोप लगाया कि इंस्पेक्टर कंवरपाल सिंह कुछ दिनों पहले मोबाइल दिलाने का झांसा देकर उसे सुनसान जगह ले गया और फिर दुष्कर्म किया। उसके बाद उसने महिला को नौकरी दिलाने का आश्वासन दिया। नौकरी दिलाने के नाम पर वह लगातार दुष्कर्म करता रहा। पिछले सप्ताह 29 मई को कंवरपाल सिंह घर आया और फिर दुष्कर्म करने का प्रयास किया तो महिला ने विरोध किया।

इस पर उसने अपनी रिवॉल्वर से मारने की धमकी दी। काफी विवाद के बाद वह चला गया। महिला ने बुधवार को करणी विहार पुलिस थाने में मामला दर्ज कराया है। अतिरिक्त पुलिस आयुक्त अशोक गुप्ता ने बताया कि प्रकरण की जांच की जा रही है । 

गौरतलब है कि राजस्थान में दौसा की युवती से अलवर में सामूहिक दुष्कर्म की घटना सामने आई थी। युवती का आरोप है कि तीन युवक उसे बहला-फुसला कर अलवर ले गए और वहां उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया। इस मामले में दौसा के नांगल राजावतान थाने में तीन आरोपितों के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म का केस दर्ज कराया गया है। पुलिस आरोपितों की तलाश में जुटी हुई है।

पुलिस के अनुसार, नांगल राजावतान थाना इलाके में रहने वाली एक युवती 27 मई को घर से लापता हो गई थी, जो अगले दिन अलवर पुलिस को मिली। अलवर पुलिस ने दौसा में परिजनों और पुलिस को सूचना दी। इसे वापस ले कर आए तो इसने अपने साथ सामूहिक दुष्कर्म की घटना के बारे में बताया।

पुलिस के अनुसार, पीड़िता ने अपनी मां को बताया कि उसके पड़ोसी के तीन रिश्तेदार अलवर से आए हुए थे। वे उसे बहला-फुसलाकर अलवर ले गए। अलवर में आरोपितों ने उसके साथ बारी-बारी से दुष्कर्म किया। पीड़िता की मां ने पुलिस में अलवर के रहने वाले सोनू , मोनू और समंदर के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया है। पुलिस ने पीड़िता का मेडिकल करवाया और अब आरोपितों की तलाश की जा रही है।

Posted By: Sachin Kumar Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस