उदयपुर, संवाद सूत्र। राजस्थान में प्रतापगढ़ जिले के छोटीसादड़ी इलाके के पीथलवड़ी गांव में लूट के आरोपित को गिरफ्तार करने पहुंची पुलिस टीम पर आरोपितों के परिजनों ने पथराव कर हमला कर दिया। जिसमें थानाधिकारी कपिल पाटीदार सहित चार पुलिसकर्मियों को चोटें आईं। यह घटना शुक्रवार रात की है। इसका खुलासा शनिवार को हो पाया। छोटी सादड़ी थाना पुलिस रात ग्यारह बजे बाद आरोपितों की तलाश में पीथलवड़ी गांव पहुंची थी। वह आरोपितों के घर के पास पहुंची, तब आरोपित तथा उसके परिजनों ने पथराव शुरू कर दिया। इस दौरान थानाधिकारी सहित चार पुलिसकर्मी घायल हो गए, जबकि आरोपित और उनके परिजन अंधेरा का फायदा उठाकर भाग निकले।

डेढ़ सौ पुलिसकर्मी पहुंचे

इस घटना की जानकारी अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक चिरंजीलाल मीणा को मिली तो उन्होंने डेढ़ सौ पुलिसकर्मियों का बल मौके पर भेजा। जबकि प्रतापगढ़ महिला थाना अधिकारी धर्म सिंह मीणा, रठांजना थानाधिकारी हेमंत कुमार, धमोत्तर और धोलापानी थाने का उप निरीक्षक दिलीप सिंह भी वहां पहुंचे। पुलिस अधिकारी क्यूआरटी, आरएसी के जवानों के साथ पीथलवड़ी पहुंचे और ताबड़तोड़ कार्रवाई करते हुए आरोपितों के घर पर दबिश दी। किन्तु वहां आरोपितों के घरों पर ताले लटके मिले। जैसे ही पुलिस का भारी-भरकम पुलिस की टीम गांव में घुसी तो अपराधियों में खलबली मच गई। पुलिस ने आरोपितों के घरों और आसपास दबिश दी।

बिना नंबर की 22 बाइक, ट्रैक्टर और टेंपो बरामद

आरोपितों के घर पहुंची पुलिस ने उनके घरों और आसपास जगहोंं से तीन ट्रैक्टर, दो ट्राली, बिना नंबर की 22 बाइक, एक टेंपो बरामद हुआ। ये वाहन लावारिस थे। पुलिस ने वहां एक आरा मशीन और भारी मात्रा में लकड़ियां भी बरामद कीं। पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ फारेस्ट एक्ट के तहत भी अलग से मुकदमा दर्ज किया। पुलिस पर जानलेवा हमला तथा सरकारी कामकाज में कार्रवाई में अवरोध पहुंचाने का भी मामला इन पर दर्ज किया गया है।  

Edited By: Sachin Kumar Mishra