जयपुर, जागरण संवाददाता। कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह की बात का समर्थन करते हुए राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को देश को यह बताना चाहिए कि एयर स्ट्राइक में कितने आतंकवादी मारे गए। गहलोत ने आरोप लगाया कि पीएम मोदी सर्जिकल स्ट्राइक-1 और एयर स्ट्राइक-2 का राजनीतिक लाभ लेने के लिए जिस तरह की राजनीति कर रहे है वह प्रधानमंत्री पद की गरीमा के अनुकूल नहीं है।

गहलोत ने कहा कि यूपीए सरकार के कार्यकाल में 4,239 आतंकियों का खात्मा किया गया था,जबकि मोदी सरकार के कार्यकाल में 876 आतंकवादी मारे गए है। यूपीए सरकार के कार्यकाल में जम्मू-कश्मीर में शांति स्थापित होने लगी थी। गहलोत ने कहा कि पहले केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने एयर स्ट्राइक में 350 आतंकवादी मारने का दावा किया, इसके बाद भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने 250 आतंकवादी मारे जाने की बात कही और अब एयर चीफ वी.एस.धनोआ ने कहा कि हमारा काम टारगेट हिट करना है,गिनना नहीं। इस तरह से बयानों से देश में भ्रम फैल रहा है।

उन्होंने कहा कि देश में इस तरह का माहौल बनने लगा है कि अब अगर मोदी फिर से पीएम बन गए तो आगे कभी चुनाव कराएंगे भी या नहीं। मोदी सरकार ने लोकतांत्रिक परंपरा को खत्म किया है। आयकर विभाग, सीबीआई और ईडी जैसी केन्द्रीय एजेंसियों का दुरूपयोग विपक्षी नेताओं के खिलाफ किया जा रहा है ।

पायलट ने कहा : सेना पर गर्व,लेकिन भाजपा राजनीति लाभ लेने में जुटी

उप मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट ने बातचीत में वायुसेना की सेना की तारीफ करते हुए कहा कि उनके साहस और पराक्रम पर सवाल उठाना गलत है। पायलट ने कहा कि कांग्रेस सेना का पूरा सम्मान करती है,लेकिन भाजपा एयर स्ट्राइक का राजनीतक लाभ लेने का कोई मौका नहीं छोड़ रही है। उन्होंने कहा कि हमारी वायु सेना इस देश की प्रतिष्ठा का प्रतीक है सैनिकों की कार्यकुशलता और साहस पर हमको आज भी गर्व है कल भी था।

पायलट ने कहा कि हमें आतंकवाद के प्रति और ज्यादा सचेत रहने और आतंकवाद फैलाने वाले देशों को पूरे विश्व में अलग-थलग करने में कोई ढिलाई नहीं बरतनी चाहिए। पायलट ने कहा कि भाजपा आतंकवाद के खिलाफ अभियान का राजनीतिक लाभ लेने में जुटी है,उसे इस तरह से नहीं करना चाहिए।

Posted By: Preeti jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप