जयपुर, जागरण संवाददाता। राजस्थान विधानसभा में शुक्रवार को डिजिटल म्यूजियम के काम का शुभारंभ किया गया। म्यूजियम में राजस्थान की विकास यात्रा को दर्शाया गया है। यहां राजस्थान बनने से लेकर अब तक बनी सरकारों के निर्णय, मुख्यमंत्रियों, विधानसभा अध्यक्षों, स्वतंत्रता सेनानियों और अन्य वरिष्ठ नेताओं के बारे में उल्लेख किया गया है। म्यूजियम के काम का शुभारंभ करते हुए गहलोत ने कहा कि रियासत काल से लेकर अब तक प्रदेश का गौरवशाली इतिहास रहा है। इस म्यूजियम में प्रदेश का चित्रण होगा।

म्यूजियम के माध्यम से शोधार्थियों और छात्र-छात्राओं को प्रदेश के इतिहास का ज्ञान हो सकेगा। गहलोत ने कहा कि मारवाड़, मेवाड, हाडौती सहित प्रदेश के सभी क्षे़त्रों में कई ऎतिहासिक घटनाएं हुई हैं। इन घटनाओं के साथ ही राजस्थान के विकास क्रम में राज्य विधानसभा के योगदान को हम गर्व के साथ याद करते हैं।

इनकी जानकारी नई पीढ़ी तक पहुंचाना जरूरी है। इस मौके पर विधानसभा अध्यक्ष डॉ.सी.पी.जोशी ने कहा कि म्यूजियम के जरिए राजस्थान के निर्माण और विकास के आयामों का प्रदर्शन होगा। लोगों को लोकतांत्रिक प्रक्रिया की जानकारी मिलेगा, विश्वास बढ़ेगा। लोकतंत्र पहले से अधिक मजबूत होगा। विपक्ष के नेता गुलाब चंद कटारिया ने कहा कि यह म्यूजियम युवाओं के लिए प्रेरणा का काम करेगा। कार्यक्रम में राज्य मंत्रिमंडल के सदस्य और विधायक मौजूद थे। 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस