जयपुर, जागरण संवाददाता। अपने गुरूकुल की नाबालिग छात्रा के यौन शोषण के आरोप में जोधपुर जेल में उम्रकैद की सजा काट रहे आसाराम ने राजस्थान के राज्यपाल के समक्ष दया याचिका पेश की है। इसके साथ ही आसाराम ने जोधपुर जिला कलेक्टर के समक्ष भी पैरोल के लिए आवेदन किया है।

पिछले पांच साल से भी अधिक समय से जोधपुर जेल में बंद आसाराम ने जमानत के लिए सेशन कोर्ट से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक कई बार जमानत के लिए आवेदन किया,लेकिन वहां से कोई राहत नहीं मिलने पर अब राज्यपाल के समक्ष दया याचिका पेश की है।

राजभवन ने इस मामले में पुलिस महानिदेशक (जेल) से रिपोर्ट मंगवाई है। राज्यपाल के समक्ष पेश की गई दया याचिका में आसाराम ने सजा को कम करने सहित अन्य राहत मांगी है। उधर आसाराम ने पांच साल जेल में रहने के बाद अब पैरोल पर बाहर निकलने के लिए जोधपुर जिला कलक्टर के समक्ष आवेदन किया है।

आसाराम साल,2013 से जोधपुर सेंट्रल जेल में बंद है। जानकारी के अनुसार अधिक उम्र में पैरोल प्राप्त करना बंदी का हक भी होता है, लेकिन सब कुछ जेल प्रबंधन की रिपोर्ट पर निर्भर करेगा ।  

Posted By: Preeti jha