जयपुर,नरेन्द्र शर्मा। राजस्थान में फिर से सत्ता में आने को लेकर कसरत में जुटी भाजपा अब पूरी तरह से चुनावी रंग में आ गई है। पीएम नरेन्द्र मोदी की यात्रा से उत्साहित पार्टी कार्यकर्ताओं के जोश और आम लोगों में गए संदेश को बरकरार रखने के लिए भाजपा ने चुनावी रोडमैप तैयार कर लिया है।

इसी के तहत 21 जुलाई को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह जयपुर में वरिष्ठ नेताओं,मंत्रियों,सांसदों,विधायकों,पार्टी के प्रदेश पदाधिकारियों और जिला अध्यक्षों की बैठक लेंगे। इस बैठक में अमित शाह चुनाव जीतने का मंत्र देंगे। इससे एक दिन पहले 20 जुलाई को प्रदेश कार्यसमिति की बैठक होगी। इस बैठक में चुनाव प्रचार अभियान पर चर्चा होगी।

कार्यसमिति के सदस्य अमित शाह की क्लास में भी शामिल होंगे। जयपुर यात्रा के दौरान अमित शाह प्रदेश सत्ता एवं संगठन से नाराज चल रहे पार्टी के पुराने नेताओं से भी मुलाकात करेंगे। अमित शाह की यात्रा से पहले प्रदेश कार्यसमिति और जिला अध्यक्षों में बदलाव होगा। चुनाव अभियान से जुड़ी विभिन्न समितियों की घोषणा अगले कुछ दिनों में कर दी जाएगी।

पार्टी ने मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की " सुराज गौरव यात्रा " को हरी झंडी दे दी है। मुख्यमंत्री की यात्रा 1 अगस्त को उदयपुर संभाग के प्रमुख धार्मिक स्थल चारभुजा मंदिर से प्रारम्भ होगी और डेढ़ माह में सभी 200 विधानसभा क्षेत्रों में जाएगी। यात्रा की शुरूआत पर अमित शाह सभा को संबोधित करेंगे और समापन पर पीएम नरेन्द्र मोदी के आने का कार्यक्रम बताया जा रहा है ।

चुनावी रोड़मैप के तहत भाजपा ने तय किया है कि केन्द्र सरकार के मंत्री और राष्ट्रीय नेता जुलाई के अंतिम सप्ताह से जिलों के दौरे शुरू करेंगे। लगभग प्रत्येक सप्ताह केन्द्र सरकार के मंत्री और संगठन के राष्ट्रीय पदाधिकारी एक जिले में जाएंगे। राज्य सरकार के मंत्री और पदाधिकारी भी इनके साथ रहेंगे। अगस्त से लेकर अक्टूबर तक अमित शाह प्रदेश में तीन से चार सभाओं को संबोधित करेंगे।

पार्टी के विस्तारक अगले कुछ दिनों में अपने-अपने क्षेत्रों में पहुंच जाएंगे। वहीं पीएम मोदी की भी दो सभाएं आयोजित कराने पर विचार किया जा रहा है। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मदन लाल सैनी का कहना है कि केन्द्रीय नेतृत्व से मिले दिशा-निर्देशों के अनुसार प्रदेश स्तर पर चुनाव की तैयारी शुरू कर दी गई है। मुख्यमंत्री की यात्रा के दौरान अमित शाह के आने का कार्यक्रम तय हो गया है।  

By Preeti jha