जागरण संवाददाता, जयपुर : राजस्थान में बीकानेर के वायुसेना क्षेत्र में गुरुवार को एक जुनियर वारंट ऑफिसर (कनिष्ठ वारंट अधिकारी) ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। आत्महत्या करने से पहले उसने एक सुसाइड नोट लिखा है। सुसाइड नोट में विंग कमांडर और ग्रुप कैप्टन पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। लिखा कि दोनों उसे गंदी गालियां देने के साथ ही अवकाश पर जाने की अनुमति भी नहीं देते थे।

मौके पर देखा तो फंदे पर लटका था बेदपाल

जानकारी के अनुसार मृतक बेदपाल सिंह ने गुरुवार अपने कमरे में फांसी लगाकर आत्महत्या की। साथी कार्मिक जब उसके कमरे पर गए तो वह फंदे पर लटका हुआ था। सूचना पर वरिष्ठ अधिकारी भी मौके पर पहुंचे। उसे बीकानेर शहर के पीबीएम अस्पताल ले जाया गया। जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

दिल्ली से तबादले के बाद बीकानेर आया था

पुलिस के अनुसार बेदपाल के पास मिले सुसाइड नोट में विंग कमांडर एम.एस.राठौड़ और ग्रुप कैप्टर पीयूष धवन पर परेशान करने का आरोप लगाया है। दोनों उसे इस साल अगस्त माह से परेशान कर रहे थे। वह इस साल की शुरूआत में ही दिल्ली से तबादले के बाद बीकानेर आया था।

तीन बार अवकाश के लिए आवेदन किया था

यहां आने के बाद तीन बार अवकाश के लिए आवेदन किया। लेकिन दोनों ने उसे अवकाश पर जाने की अनुमति नहीं दी। दोनों हमेशा गालियां निकालते थे। दोनों से परेशान होकर आत्महत्या कर ली। मृतक बेदपाल उत्तरप्रदेश में अलीगढ़ जिले के अतरौली का रहने वाला था।

विशेष चौधरी ने ऑनलाइन मामला दर्ज कराया

बेदपाल का शव देर शाम बीकानेर से अलीगढ़ के लिए रवाना किया गया है। शव शुक्रवार सुबह तक उसके घर पहुंचने की उम्मीद है। सेना और पुलिस की सूचना पर बेदपाल के भाई विशेष चौधरी ने बीकानेर के सदर पुलिस थाने में ऑन लाइन मामला दर्ज कराया है। इसमें धवन और राठौड़ पर अपने भाई को मारने की साजिश में हिस्सा बताया गया है।

Edited By: Vijay Kumar