जयपुर, जेएनएन। राजस्थान के रावतभाटा में एक पिता ने चार साल की मासूम बच्ची का गला दबा कर मारपीट की और फिर उसे छत से फेंक दिया। बच्ची को उपचार के लिए कोटा लाया गया, लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। आरोपी को लोगों ने पकड़कर पुलिस को सौंप दिया।

जानकारी के अनुसार बच्ची की मां रानू का आरोप है कि शराबी पति भोलाराम को बेटा चाहिए था, इसलिए वह बेटी से नफरत करता था। उसने शराब के नशे में बेटी को बेरहमी से मारा, गला दबाया और छत से फेंक दिया।

शाम को करीब चार बजे जब पति भोलाराम शराब पीकर आया और पहले पत्नी के साथ और बाद में बेटी के साथ मारपीट की। इस बात से नाराज होकर उसकी पत्‍नी रानू थाने चले गई, जब वह वहां से वापस आई तो तब तक उ  सके पति भोलाराम ने उसकी बच्ची का गला दबाकर छत से फेंक दिया। जब पड़ोसियों ने देखा तो वो बच्ची और उसकी मां रानू को लेकर अस्पताल पहुंचे।

इसी बीच लोगों ने पति भोलाराम को पकड़ पुलिस के हवाले कर दिया। नशे में धुत पति भोलाराम का कहना था कि मैंने बच्ची को नहीं मारा। जानकारी के अनुसार पत्‍नी रानू छह माह की गर्भवती है। इससे पहले भी उसकी दो बेटियां है। भोलाराम की पत्‍नी रानू का कहना है कि उसका पहला पति मर चुका है। यह उसका दूसरा पति है। दोनों बेटियां उसी की है। दोनों पति, पत्नी पन्नी और कबाड़ा बीनने का काम करते है और गरीब है। 

Posted By: Preeti jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप