जयपुर, [जागरण संवाददाता]। राजस्थान के अलवर में एक बार  फिर गौ-तस्करी का मामला सामने आया है । बुधवार आधी रात बाद पुलिस और गौ- तस्करो के बीच हुई मुठभेड़ में एक गौतस्कर की मौत हो गई,वहीं अंधेरे का फायदा उठाकर उसके अन्य साथी फरार हो गए । 

पुलिस को सूचना मिली थी कि पिछले कई दिनों से रात में गौतस्कर अलवर जिले के विभिन्न क्षेत्रों से गायों को उठाकर हरियाणा की तरफ ले जा रहे हैं । इस पर पुलिस ने बुधवार शाम को जिले के विभिन्न क्षेत्रों में नाकेबंदी करवाई । इसी बीच रात करीब साढ़े 12 बजे गायों से भरी एक टाटा 407 गाड़ी आते हुई दिखाई दी तो पुलिस ने उसे रोकने का प्रयास किया,लेकिन उसके सवार गौ तस्करों ने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी। गौतस्करों ने पुलिस से बचकर भागने के चक्कर में रास्ते से गुजर रहे अन्य वाहनों पर भी फायरिंग की । इस पर पुलिस ने जवाबी फायरिंग की । इस दौरान एक गौ तस्कर की मौत हो गई,वहीं उसके अन्य साथी फरार हो गए ।

जिला पुलिस अधीक्षक राहुल प्रकाश ने बताया कि गौ तस्करों को तीन नाकेबंदी पर रोकने का प्रयास किया तो उन्होंने पुलिस पर फायरिंग की,इस कारण पुलिस को जवाबी फायरिंग करनी पड़ी। उन्होंने बताया कि इस दौरान एक गौ तस्कर की मौत हो गई,फरार होने वाले गौ तस्करों की संख्या पांच से छह हो सकती है। उनकी तलाश की जा रही है । टाटा 407 वाहन से 5 गायों को  मुक्त कराया गया है । 

उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों गौ तस्करों ने अलवर जिले में आवारा घूमने वाली गायों के साथ ही खेतों में बंधी हुई गायों को उठाकर ले जाने का सिलिसला चला रखा था। विरोध करने वालों पर हमला कर गौ तस्कर फरार हो जाते थे । 

 

By Preeti jha