जयपुर, जागरण संवाददाता। राजस्थान में भाजपा सरकार में मंत्री रहे कालूलाल गुर्जर उनके मोबाइल से भेजी गई अश्लील वीडियो क्लिप मामले में फंस गए हैं। उनके खिलाफ पुलिस में आईटी एक्ट (IT act) के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। वहीं गुर्जर का कहना है कि किसी ने उनके मोबाइल का दुरूपयोग किया है और उन्हें राजनीतिक साजिश के तहत फंसाया गया है।

कालूलाल गुर्जर के मोबाइल नंबर से व्हाट्सएप ग्रुप में कुछ अश्लील वीडियो भेजे गए थे। इस ग्रुप पर भीलवाडा के मांडल, सहाड़ा और भीलवाड़ा मंडल के भाजपा कार्यकर्ता जुडे हुए हैं। इन अश्लील वीडियो को देखकर कार्यकर्ता और पदाधिकारी सकते में आ गए थे। अब भाजपा के किसान मोर्चा के पूर्व जिला उपाध्यक्ष कमलेंद्र सिंह गुढ़ा ने गुर्जर के खिलाफ मांडल पुलिस थाने में आइटी एक्ट की विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज करवाया है। उन्होंने कहा कि हम सब साथ साथ हैं व्हाट्सएप ग्रुप में पूर्व मंत्री कालूलाल गुर्जर ने महिलाओं के अश्लील क्लिपिंग डाली है।

मांडल थानाधिकारी राजेंद्र सिंह गोदारा ने कहा कि कमलेश सिंह की एफआइआर पर पूर्व मंत्री कालूलाल गुर्जर के खिलाफ आइटी एक्ट की धारा 67 और 67- ए में मामला दर्ज किया गया है। वहीं गुर्जर का कहना है कि पिछले विधानसभा चुनाव में जिन लोगों ने मुझे हराने का काम किया वे ही लोग इस षड़यंत्र में शामिल हो सकते हैं क्योंकि उन्हें डर है कि आगामी विधानसभा चुनाव में मेरी साफ छवि के कारण पार्टी मुझे फिर टिकट दे सकती है। उन्होंने कहा कि मेरे पास रोजाना सैंकडों कार्यकर्ता और लोग आते है। ऐसे में किसी ने मेरे मोबाइल का दुरुपयोग किया है।

गौरतलब है कि गुर्जर भीलवाड़ा जिले की मांडल विधानसभा क्षेत्र से वर्ष 1990, 1993, 2003 और 2013 में चार बार विधायक चुने जा चुके हैं। राज्य सरकार में दो बार मंत्री और एक बार सरकारी मुख्य सचेतक रह चुके है।

Posted By: Neel Rajput

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस