जागरण संवाददाता, जयपुर। राजस्थान विधानसभा के बजट सत्र का दूसरा चरण सोमवार से शुरू होगा। सोमवार को राज्यपाल के अभिभाषण पर बहस शुरू होगी। राज्य का बजट 17 फरवरी को पेश किए जाने की उम्मीद है।

प्रश्न पूछने को लेकर विधायकों के लिए गाइड लाइन तय

विधानसभा अध्यक्ष डॉ.सी.पी. जोशी ने इस बार प्रश्न पूछने को लेकर विधायकों के लिए गाइडलाइन तय की है। गाइडलाइन में कुल 34 बिंदू है, जिन्हें सभी विधायकों को भेजा गया है। इनका पालन करना आवश्यक है। इसके अनुसार अब विधायक एक दिन में 10-10 तारांकित और अतारांकित सवाल ही पूछ सकेंगे। 40 सवालों की सीमा पर राइडर लगाया गया है।

बाहरी इलाकों के सवाल पूछने पर उसे डिफेक्ट श्रेणी में डाल दिया जाएगा

बाहरी इलाकों के सवाल पूछने पर उसे डिफेक्ट श्रेणी में डाल दिया जाएगा। उसका जवाब विभाग से मांगा नहीं जाएगा। इसके अलावा गाइड लाइन में कहा गया है कि पांच वर्ष से पहले के कोई सवाल नहीं पूछे जाएं। प्रश्न छोटे हों। विस्तृत सवाल स्वीकार नहीं किए जाएंगे। प्रदेश के किसी विशेष स्थान, अपने जिला, विधानसभा क्षेत्र, तहसील आदि की जानकारी मांगी जाए। पूरे प्रदेश की जानकारी नहीं मांगी जाए।

प्रश्न सार्वजनिक हित की जानकारी से युक्त पूछा जाए

प्रश्न सार्वजनिक हित की जानकारी से युक्त पूछा जाए, व्यक्तिगत हित की जानकारी से संबंधित सवाल नहीं पूछे जाए। योजनाओं की प्रक्रिया, नियम आदि के सवाल नहीं पूछे जाएं, वे ऑनलाइन उपलब्ध हैं। प्रश्न में अधिकतम चार बिंदू हों, अधिक स्वीकार नहीं होंगे। सरकार की जिम्मेदारी नहीं है, उन उपक्रमों से जुड़े सवाल नहीं पूछे जाए।

राजस्थान में बड़ा प्रशासनिक फेरबदल

राजस्थान में अशोक गहलोत सरकार ने रविवार को बड़ा प्रशासनिक फेरबदल करते हुए भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) के 40 अधिकारियों के तबादले किए हैं। पर्यटन मंत्री विश्वेंद्र सिंह के साथ लंबे समय से चल रहे विवाद के कारण राजस्थान पर्यटन विकास निगम के महाप्रबंधक के.बी. पंड्या का तबादला कर दिया गया है। पंड्या के साथ विवाद के चलते विश्वेंद्र सिंह ने दफ्तर जाना बंद कर दिया था।

Posted By: Bhupendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस