जयपुर, जागरण संवाददाता। राजस्थान के मुकंदरा टाइगर हिल्स इलाके 15 गांवों को शिफ्ट किया जाएगा। राज्य विधानसभा में शुक्रवार को भाजपा विधायक मदन दिलावर के सवाल पर मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने बताया कि लाडपुरा पंचायत समिति के 15 गांवों को विस्थापित किए जाने का प्रस्ताव है। विस्थापित होने वाले परिवार को 10 लाख का मुआवजा दिया जाएगा। विस्थापन स्वैच्छिक है और सुप्रीम कोर्ट के दिशा निर्देशों के तहत ही कार्रवाई होगी। मुकुन्दरा हिल्स को अप्रेल 2013 में टाइगर रिजर्व घोषित किया गया था।

मुकुंदरा में छोड़े गए बाघों के बाद रिजर्व में आ रहे गांवों के विस्थापन की मांग पिछले कई दिनों से जोर पकड़ रही है। दरअसल, गांवों में रह रहे लोग मांग कर रहे है कि सरकार गांवों के विस्थापन का जल्द कोई ठोस निर्णय करे। इसके साथ ही ग्रामीण विस्थापन के पैकेज से भी संतुष्ट नहीं है।डोटासरा की सदन में मुकंदरा हिल्स से जुड़े सवाल का जवाब देते समय जुबान फिसल गई। डोटासरा ने सवाल के जवाब में मदन दिलावर को मंत्री कहकर संबोधित कर दिया ।

760 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में फैला है टाइगर रिजर्व

करीब 760 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में फैले टाइगर रिजर्व में एक दर्जन से अधिक गांव बसे है। सरकार की योजना के तहत इन्हें विस्थापित किया जाना है। जानकारी के अनुसार कोलीपुरा, रूपपुरा, अखावा, दामोदरपुरा, खरलीबावड़ी, लक्ष्मीपुरा, दरा गांव, घाटी गांव, मशालपुरा, नारायणपुरा, बड़चाच, नौसेरा व गिरधरपुरा में रहने वाले ग्रामीण परिवारों की संख्या 1 हजार 600 से अधिक है।

Posted By: Preeti jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस