जागरण संवाददाता, तरनतारन: गांव जट्टा में पति-पत्नी की तकरार को शांत करवाने गए बलजिंदर सिंह (36) की घर में घुसकर चाकू से हमला कर हत्या कर दी गई। यह घटना सोमवार रात की है और सभी आरोपित फरार हैं। थाना सरहाली में मामला दर्ज कर मंगलवार को शव का पोस्टमार्टम करवाया गया। गांव जट्टा निवासी प्रभजोत कौर ने बताया कि सोमवार को पति बलजिंदर सिंह (36) के साथ घर में मौजूद थी।

अपने भाईयों के साथ मिलकर की हत्या

रात करीब सात बजे पड़ोस में रहते सरबजीत सिंह और उसकी पत्नी का विवाद चल रहा था। शोर सुनकर पति उसे साथ लेकर सरबजीत सिंह के घर गया और मामले को शांत करवाने लगे। इस दौरान सरबजीत सिंह बलजिंदर सिंह के साथ ही गाली-गलौज करने लगा। इसपर वो दोनों घर लौट आए।

करीब आधे घंटे बाद सरबजीत सिंह अपने भाई सतनाम सिंह, हरजीत सिंह, भतीजों कारजदीप सिंह, रणदीप सिंह, रणजीत सिंह व सुखविंदर कौर सुक्खी के साथ उनके घर में घुस आया। इन लोगों के पास चाकू, बेसबाल व लाठियां थी। पहले लाठियों से बलजिंदर सिंह पर वार किया, फिर चाकुओं से हमला कर दिया। बलजिंदर सिंह को बुरी तरह घायल करने के बाद सभी आरोपित फरार हो गए।

इन के खिलाफ दर्ज मामला

प्रभजोत कौर ने बताया कि वह पति बलजिंदर सिंह को पट्टी मोड़ (रसूलपुर नहरां) स्थित बाबा बस्ता सिंह, बाबा करतार सिंह चेरिटेबल अस्पताल लेकर पहुंची। जहां डाक्टरों ने उसको मृत घोषित कर दिया। घटना का पता चलते ही थाना सरहाली के प्रभारी इंस्पेक्टर सुखबीर सिंह व एएसआइ मुख्तार सिंह मौके पर पहुंचे। मंगलवार को सिविल अस्पताल से बलजिंदर सिंह के शव का पोस्टमार्टम करवाया गया।

एसपी (आइ) विशालजीत सिंह ने बताया कि प्रभजोत कौर के बयान पर आरोपित सरबजीत सिंह, उसके दो भाईयों सतनाम सिंह, हरजीत सिंह, तीन भतीजों कारजदीप सिंह, रणदीप सिंह (पुत्र सतनाम सिंह), रणजीत सिंह पुत्र हरजीत सिंह, सुखविंदर कौर सुक्खी पत्नी हरजीत सिंह के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर तफ्तीश शुरू कर दी है।

बलजिंदर बना रहा था नया मकान

प्रभजोत कौर ने आरोप लगाया कि हत्या की वारदात को अंजाम देने वाले सभी आरोपितों को गिरफ्तार करने के बजाय पुलिस द्वारा ढील दी जा रही है। इस कारण वो खुलेआम घूम रहे है, जो उसके परिवार का नुकसान कर सकते है। प्रभजोत कौर का 2008 में बलजिंदर सिंह के साथ विवाह हुआ था।

वह राजगिरी (निर्माण मिस्त्री) का काम करता था। उनके एक लड़का अभिशेर सिंह व लड़की परमप्रीत कौर थी। करीब छह माह से बलजिंदर सिंह ने अपने घर में नए मकान का निर्माण शुरू करवाया था। अब उसकी हत्या के बाद मकान का निर्माण बीच में लटक गया है।

Edited By: Sonu Gupta

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट