जागरण संवाददाता, तरनतारन : चचेरे भाइयों के विवाद को निपटाने गए मनजिंदर सिंह उर्फ लाडी की वीरवार को गोली मार कर हत्या कर दी गई थी। इस मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपित अमरीक सिंह को गिरफ्तार कर लिया जबकि उसके दो लड़के सलविंदर सिंह उर्फ राजा, मनजिंदर सिंह उर्फ काका किनारिया और पत्नी सविंदर कौर अभी तक फरार है।

सिविल अस्पताल तरनतारन से मनजिंदर सिंह लाडी का पोस्टमार्टम करवाया गया। बाद में गांव वेईपुई में अंतिम संस्कार किया गया। इस मौके बाबा विधि चंद संप्रदाय के मुखी बाबा अवतार सिंह सुरसिंह वालों ने अरदास की। उन्होंने मृतक के परिवार से हमदर्दी भी जाहिर की। इस मौके मृतक मनजिंदर सिंह उर्फ लाडी का शव देख उसकी पत्नी राजविंदर कौर बेहोश हो गई। लाडी की चिता को अग्नि 6 वर्षीय लड़के सुखवंत सिंह ने दी तो श्मशानघाट में मौजूद लोगों की आंखें नम हो गई। इस मौके डीएसपी हरदेव सिंह बोपाराय, थाना गोइंदवाल साहिब के प्रभारी बलजिंदर सिंह ने बताया कि हत्या मामले में नामजद मुख्य आरोपित अमरीक सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया है। जबकि उसके दो लड़के सलविंदर सिंह उर्फ राजा, मनजिंदर सिंह उर्फ काका किनारिया व पत्नी सविंदर कौर अभी तक फरार है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!