जेएनएन, तरनतारन। पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष सुनील जाखड़ ने कहा है कि धार्मिक ग्रंथों की बेअदबी के मामले में पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल, शिअद अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल समेत सभी आरोपितों को सबूतों के साथ जेल भेजा जाएगा। खेमकरण हलके के गांवमाड़ी गौड़ सिंह में विधायक सुखपाल सिंह भुल्लर की ओर से आयोजित रैली के मौके पर उन्होंने कहा की पंजाब का आर्थिक तौर पर जो नुक्सान हुआ है उसकी भरपाई तो हो सकती है, पर सिख कौम की धार्मिक भावनाओं के साथ जो खिलवाड़ हुआ है उसको कभी भी नहीं भुलाया जा सकता।

जाखड़ ने कहा कि धार्मिक ग्रंथों की बेअदबी के मामले में पूर्व बादल सरकार ने ड्रामा करते हुए जस्टिस जोड़ा सिंह कमिशन  तो बनाया पर उसकी रिपोर्ट किस रद्दी को टोकरी में फेंकी किसी को भी मालूम नहीं, पर कैप्टन अमरिंदर सिंह की सरकार ने जस्टिस रंजीत सिंह कमिशन बनाकर डेढ़ साल में रिपोर्ट सार्वजनिक की है। वह भी तथ्यों के आधार पर। इसी रिपोर्ट के आधार पर बादल परिवार के साथ अन्य आरोपितों को जेल जाना होगा।

उन्होंने कहा कि पंजाब को युवा पीढ़ी को नशेड़ी बनाने और परिवारवाद का राज चलाने वाले बादल परिवार ने घटिया राजनीति की है। सुखबीर पर निशाना लगाते उन्होंने कहा की डेरा प्रमुख को साजिश के तहत माफी दिलवाई गई और राम रहीम की ओर से जो 300 करोड़ की फिल्म बनवाई गई उसमे सुखबीर बादल ने अपनी पार्टनरशिप के लिए मुंबई में राम रहीम से मीटिंगे भी की। जाखड़ ने प्रकाश सिंह बादल को कमजोर सियासतदां करार दिया। इस मौके पर पूर्व मंत्री गुरचेत सिंह भुल्लर, विधायक सुखपाल सिंह भुल्लर, तरलोक सिंह चकवालिया, तेजप्रीत सिंह पीटर आदि भी मौजूद थे।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Kamlesh Bhatt