जागरण संवाददाता, तरनतारन : आईपीएस अधिकारी कुलदीप चहल वीरवार सुबह 10 बजे अपनी निजी गाड़ी से जब जिला हेडक्र्वाटर पहुंचे तो कार्यालय में तैनात पुलिस कर्मियों के होश उड़ गए। बतौर एसएसपी चार्ज संभालने का समय बताए बिना चहल का यहां आना उन फरियादियों को रास आया जो इंसाफ लेने के लिए विभिन्न पुलिस अधिकारियों के कार्यालय बाहर खड़े थे। दैनिक जागरण से बातचीत मौके उन्होंने बताया कि नशा तस्करी से जुड़े लोगों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा। जिले के 39 तस्करों की सूची तैयार की गई है जिनकी जायदाद कुर्क की जानी है।

2009 बैच के आईपीएस कुलदीप चहल के कार्यालय पहुंचते ही पंजाब पुलिस की टुकड़ी ने उनको गार्ड ऑफ ऑनर दिया। इस मौके पर एसपी गुरनाम सिंह, जसवंत कौर, डीएसपी सुच्चा सिंह बल्ल, हरदेव सिंह बोपाराए, सुखचैन सिंह मान, सोहन सिंह, सतनाम सिंह, रविंदर शर्मा ने एसएसपी कुलदीप चहल को सम्मानित करते हुए स्वागत किया। एसएसपी चहल ने चार्ज संभालते ही करीब 28 फरियादियों की शिकायतें सुनकर संबंधित अधिकारियों को मामले की जांच सौपी। उन्होंने कहा कि जांच में किसी भी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी। पुलिस थाने में आने वाले लोगों को बैठने के लिए जगह और अच्छे व्यवहार को थाना प्रभारी सीधे तौर पर जिम्मेदार होंगे।

उन्होंने कहा कि ड्यूटी पर तैनात कर्मी पूरी वर्दी में रहेगा। पुलिस थाने में आने वाले सभी शिकायतों का विवरण संबंधित डीएसपी को रोजाना दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि अमन कानून की व्यवस्था कायम रखने के साथ समाज को नशा मुक्त बनाने व लोकसभा चुनाव शांतमयी ढंग से करवाने की जिम्मेदारी को पूरा किया जाएगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!