तरनतारन, [धर्मबीर सिंह मल्हार]। उड़ता पंजाब अभी जमीन पर नहीं आया है। नशे के कारण हजारों परिवार बर्बाद हो गए, लेकिन यह नासूर ज्‍यों की त्‍यों अब भी टीस दे रहा है। मां अपने बेटे से बिछ़ड़ गई तो पत्‍नी अपने पति से दूर हो गई। ऐसी ही एक मां जसबीर कौर का हाल है। बेटे को लाख समझाया और उसे नशे की जकड़ से मुक्‍त करने की कोशिश की, लेकिन वह अपनी हरकतों से बाज नहीं आया। अंत में जसबीर कौर को बहू और मासूम पोती के साथ गांव और अपना घर छोड़ना पड़ा।

घर को ताला लगाते हुए जसबीर कौर बोली, नशा खत्म करने के कैप्टन के दावे खोखले

खडूर साहिब क्षेत्र के गांव शाहबाजपुर कलां की जसबीर रोते हुए कहती हैं, 'हत्थ विच्च गुटका साहिब फड़के सोहां खाण वाले कैप्टन नूं हुण पंजाब किंवें भुल्ल गेया। मांवां दे पुत्त रोज नशे नाल मर रहे ने। कई तां आपणे घरां दा सामान वेच के नशा कर रहे ने। मेरा गबरू वी पंज साल तों नशा कर रिहा है। हुण ओह चाह वाला पतीला ते घर दे कपड़े वी वेच दिंदा है। मैैं नित दे लांभेयां तो तंग आके घर नू जंदरा मार रही आं...।'  (हाथ में गुटका साहिब लेकर सौगंध खाने वाले कैप्‍टन अब पंजाब को कैसे भूल गए। मांओं के बेटे राेज नशे से मर रहे हैं। कई तो अपने घर का सामान बेचकर नशा करते हैं। मेरा गबरू भी पांच साल से नशा कर रहा है। अब वह चाय के पतीले से ले‍कर घर के कपड़े भी बेच दिए है। मैं रोज-रोज लोगों की शिकायतें सुनकर तंग आ गई और घर छोड़ कर आ गई।) जसबीर कौर की व्‍यथा सुनने वालों की आंखें भी नम हो जाती हैं।

नशे के लिए बेटे ने बर्तन और कपड़े बेचने शुरू कर दिए

जसबीर कौर अपने घर से सामान निकाल कमरों को ताला लगाते हुए कह रही थी कि मेरे घर को नशे ने लूट लिया। उसका पति सुखविंदर सिंह शिंदी मजदूरी करता है और कुछ समय से बीमार है। 30 साल का बेटा शैरी पिछले पांच साल से नशा कर रहा है। जसबीर कौर ने बताया कि ढाई वर्षों से शैरी चिट्टे का नशा करने लगा है।

शैरी की पत्‍नी मनप्रीत कौर ने बताया कि अपनी मासूम बेटी के भविष्य का वास्ता देकर मैंने पति को कई बार नशा छोडऩे के लिए कहा, परंतु वह नहीं मानता। उल्टे वह नशे के लिए कभी रसोई से पतीला तो कभी मां के कपड़े चुरा लेता है। जसबीर कौर को गांव वाले अक्सर उलाहना देते हैं। अब जसबीर कौर अपने पति, पुत्रवधु व मासूम पोती समेत घर छोड़कर अपने भाई कश्मीर सिंह के साथ गांव भग्गूपुर चली गई।

यह भी पढ़ें:रिवार में एकता की कोशिशों के बीच नैना चौटला सहित JJP से जुड़े चार विधायकों का इस्‍तीफा

घर का सामान निकालते हुए जसबीर कौर ऊंची आवाज में दुहाई दे रही थी कि मेरे घर की तरह किसी और का घर बर्बाद न हो। इसके लिए सरकार जाग जाए। बता दें कि नशे की गिरफ्त में फंस चुका उसका बेटा शैरी घर से भाग चुका है। जसबीर कौर का कहना है कि पंजाब से नशा खत्‍म करने का मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह का दावा पूरी तरह खोखला है।

सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल

जसबीर कौर की घर छोडऩे की वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गई है। वीडियो में वह कह रही है कि कैप्टन सरकार के घर-घर नौकरी देने व युवाओं को नशा मुक्त करने के सभी वादे खोखले साबित हुए हैं। उसके भाई कश्मीर सिंह ने कहा कि उसका भांजा शैरी आए दिन घर का सामान बेच देता है। उसके खिलाफ दो आपराधिक मामले भी दर्ज हैं, इसके बावजूद वह खुद को बर्बाद कर रहा है।

यह भी पढ़ें: युवक ने घूमने के लिए दोस्त की कार ली, फिर कुरुक्षेत्र के एसएचओ को बेच दी

वीडियो की जांच के दिए आदेश: एसएसपी दहिया

एसएसपी ध्रुव दहिया ने कहा कि सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो की जांच के आदेश दे दिए हैं। युवाओं को इलाज के लिए सरकार की ओर से बनाए गए नशा छुड़ाओ केंद्र में भेजा जा रहा है। नशा बेचने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई भी की जा रही है। इस मुहिम में जनता का पुलिस को सहयोग जरूरी है।

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें




Posted By: Sunil Kumar Jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!