जतिदर गोल्डी, पट्टी

भाजपा, पंजाब लोक कांग्रेस व शिअद संयुक्त गठबंधन की ओर से राज्य की सभी 117 सीटों पर चुनाव लड़ा जा रहा है। शिअद संयुक्त के जिलाध्यक्ष दलजीत सिंह गिल को गठबंधन द्वारा विधानसभा हलका खेमकरण से प्रत्याशी बनाया गया है।

गांव भूरे निवासी दलजीत सिंह गिल पहले कांग्रेस पार्टी से जुड़े थे। पूर्व मंत्री गुरचेत सिंह भुल्लर के करीबी रहे दलजीत सिंह गिल 2012 के चुनाव में कांग्रेस को छोड़कर शिअद बादल में शामिल हो गए थे। हालांकि बाद में वह शिअद को भी अलविदा कह गए। लोकसभा के चुनाव के दौरान पूर्व सांसद रंजीत सिंह ब्रह्मंपुरा ने शिअद से अलग होकर अकाली दल (टकसाली) का गठन किया तो दलजीत सिंह गिल उनके साथ चले गए। बाद में दोनों दलों की आपसी एकता के बाद अकाली दल संयुक्त के जिलाध्यक्ष की जिम्मेदारी दलजीत सिंह गिल को सौंपी गई थी। दलजीत को शिअद संयुक्त के अध्यक्ष सुखदेव सिंह ढींडसा (मेंबर राज्यसभा) ने शुक्रवार को प्रत्याशी घोषित किया। गिल ने पार्टी हाईकमांड का धन्यवाद करते कहा कि खेमकरण की सीट से चुनाव जीतकर अपना फर्ज पूरा करूंगा।

कार्यकर्ताओं ने लड्डू बांटकर मनाई खुशी

दलजीत गिल को प्रत्याशी बनाए जाने पर खेमकरण में पार्टी कार्यकर्ताओं ने लड्डू बांटे। पार्टी नेता परगट सिंह, हरजिदर सिंह, सेवक सिंह, दरबारा सिंह, हरप्रीत सिंह, सुखदेव सिंह, बाउ सिंह, प्रीतम सिंह, बिट्टू सिंह, गुरबीर सिंह, गुरप्रीत सिंह, बलविदर सिंह और सोना सिंह ने इस अवसर पर दलजीत सिंह गिल को बधाई देते हुए लड्डू से मुंह मीठा करवाया। अब हलके से कांग्रेस प्रत्याशी के नाम का इंतजार

हलका खेमकरण से शिअद-बसपा गठबंधन की ओर से विरसा सिंह वल्टोहा को चुनाव मैदान में उतारा है जबकि आम आदमी पार्टी की ओर से सरवण सिंह धुन्न चुनावी मैदान में है। संयुक्त समाज मोर्चा (एसएसएम) द्वारा एक दिन पहले ही मास्टर दलजीत सिंह दयालपुरा को उम्मीदवार घोषित किया गया है। आस पंजाब पार्टी (एएपी) की ओर से अजय चीनू खालड़ा को यहां से प्रत्याशी बनाया गया। हालांकि कांग्रेस पार्टी की ओर से प्रत्याशी की घोषणा नहीं की गई। यहां से खेमकरण के मौजूदा विधायक सुखपाल सिंह भुल्लर को टिकट मिलना तय माना जा रहा है।

Edited By: Jagran