जासं, तरनतारन : देश में गहराए बिजली संकट के चलते अब लोगों की समस्याएं बढ़ने लगी है। सोमवार को सुबह के पांच बजते ही शहर निवासियों को पावरकट का तोहफा मिला। इसके साथ पेयजल आपूर्ति भी ठप रही। पावरकट के साथ पेयजल सप्लाई का सिलसिला पूरा दिन ही विभिन्न क्षेत्रों में जारी रहा।

सोमवार सुबह पांच बजे मोहल्ला टांककुछत्रीय, गुरु का खूह, नूरदी अड्डा, मोहल्ला जसवंत सिंह वाला, सरदार एंक्लेव, भगवान श्री चंद्र कालोनी, बोहड़ी बाजार की बिजली सेवा ठप हो गई। नगर कौंसिल की ओर से शहर के लोगों के लिए वाटर सप्लाई सुबह साढ़े पांच बजे शुरू की जाती है। जिस क्षेत्रों में पांच बजे बिजली सेवा ठप हुई, उन क्षेत्रों में सुबह के समय लोगों को पानी नसीब नहीं हुआ। इसी तरह तहसील चौक, मुरादपुर रोड, खालसापुर रोड, भगवान श्री शनिदेव मंदिर, माता कौलां जी मंदिर कालोनी में दोपहर साढ़े 12 बजे बिजली गुल हो गई। दोपहर तीन बजे जब उक्त क्षेत्र में बिजली सेवा चालू हुई तो पेयजल की समस्या का यहां भी सामना करना पड़ा। बस अड्डा, जंडियाला रोड, अमनदीप एवेन्यू, आफिसर कालोनी, मोहल्ला भागशाह, बस अड्डा रोड, बाठ चौक में शाम चार बजे से रात सात बजे तक बिजली कट लगा।

लोगों में एसी का शौक है अब भी बरकरार

पूरे शहर में दिन के समय चार से पांच घंटे तक पावरकट लगने से लोगों में हाहाकार मच गई है। टैंपरेचर भले ही कम हो रहा है। परंतु एसी का शौक अभी लोगों में बना हुआ है। सरकारी कार्यालयों में अभी एसी बंद होने का नाम नहीं ले रहे। जबकि आम लोगों को सबसे बड़ी समस्या यह हैं कि पावरकट लगते ही पेयजल सेवा ठप्प हो जाती है। नगर कौंसिल के पास ऐसी व्यवस्था नहीं की कि बिजली सप्लाई बंद होने के बावजूद पानी की सप्लाई बहाल रखी जा सके।

Edited By: Jagran