जासं, खडूर साहिब: कांग्रेस सांसद जसबीर सिंह डिंपा ने केंद्र सरकार द्वारा जीएसटी का 6200 करोड़ रुपये का हिस्सा न देने का मामला लोकसभा में उठाया। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार पंजाब से सौतेला व्यवहार कर रही है, जिसका असर पंजाब की आर्थिक स्थिति पर पड़ रहा है।

खड़ूर साहिब के सांसद डिंपा ने कहा कि केंद्र से पंजाब अधिक उम्मीद रखता रहा है, परंतु जीएसटी का 6200 करोड़ का हिस्सा नहीं दिया जा रहा। केंद्रीय करों में पंजाब का एक हजार करोड़ का हिस्सा भी जारी नहीं किया गया। डिंपा ने कहा कि प्रदेश में 3.5 लाख मुलाजिम है, जिनकी मासिक तनख्वाह 2 हजार करोड़ है। पंजाब को एक हजार करोड़ पेंशन के अदा करने पड़ते है। ऐसे में प्रदेश को विकास लिए कोई पैसा नहीं बचता।

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार को चाहिए कि पंजाब को 7200 करोड़ जल्द जारी किए जाए। पंजाब से संबंधित भाजपा के सांसदों को इस मामले पर चुप्पी शोभा नहीं देती। उन्होंने केंद्र से मांग की है कि प्रदेश के दरियाओं के धुस्सी बांध बनवाए जाएं। ताकि बाढ़ और बरसात की स्थिति में लाखों एकड़ फसलों को तबाही से बचाया जा सके। उन्होंने सीमावर्ती जिला तरनतारन में वेटनरी यूनिवर्सिटी खोलने की मांग भी रखी।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!