संसू, पट्टी : विधायक हरमिदर सिंह गिल ने अनाज मंडी का दौरा करते हुए सरकार की ओर से करवाई जा रही गेहूं की खरीद का जायजा लिया। उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार की ओर से फसल की खरीद, भुगतान, लिफ्टिंग के मामले में आदेश दिए गए हैं। किसानों को किसी भी तरह की परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा। उन्होंने पनसप, पनग्रेन, एफसीआइ, मार्कफेड और वेयरहाउस के अधिकारियों के साथ बैठक करते हुए अनाज मंडियों में बिजली, पानी, सफाई, शौचालय, लिफ्टिग, बारदाने के साथ सैनिटाइजर, मास्क की व्यवस्था यकीनी बनाने बाबत भी कहा। इस मौके पर एएफएसओ अमनदीप सिंह, सुखजीत सिंह, सतनाम सिंह सेखों, मेजर सिंह धालीवाल, सुखविदर सिंह सिद्धू, दलबीर सिंह सेखों, हरमन सेखों, तीर्थ सिंह सभरवाल , गुरप्रीत सिंह पंगोटा, जगजीत सिंह भुल्लर भी मौजूद थे। जम्हूरी किसान सभा की ईकाई घोषित

वहीं जम्हूरी किसान सभा की बैठक गुरप्रताप सिंह बाठ की अध्यक्षता में हुई। इसमें महासचिव जसपाल सिंह ढिल्लों, सीटीयू के जिला अध्यक्ष बलदेव सिंह पंडोरी ने केंद्र सरकार से तीनों कृषि कानून वापस लेने की मांग की। ढिल्लों ने कहा कि किसानों की जमीनों पर सरकार की नजर टिकी हुई है। परंतु देश का किसान खुद को बर्बाद नहीं होने देगा। उन्होंने कहा कि 44 किरत कानून तोड़कर चार कोड बनाकर मजदूरों से आठ की बजाय 12 घंटे काम लेने की योजना का विरोध होगा। इस मौके गुरप्रताप सिंह बाठ को जोन बाठ की ईकाई का अध्यक्ष बनाते हुए 13 मेंबरी कमेटी का गठन किया गया। इस मौके दिलबाग सिंह, सरबजीत सिंह, बलविदर सिंह, जगप्रीत सिंह, बिक्रमजीत सिंह, बलविदर सिंह, जसबीर सिंह, बलकार सिंह, परमजीत सिंह, गुरमेज सिंह, बाबा बलविदर सिंह, सरबजीत सिंह बाठ, गुरभेज सिंह भट्टी, हरजीत सिंह भट्टी मौजूद थे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप