धर्मबीर सिंह मल्हार, पट्टी

गांव सैदपुर निवासी गुरसिमरन कौर का झब्बाल के गांव पंजवड़ निवासी सरबजोत सिंह के साथ विवाह रखा गया था। लड़की वालों ने पट्टी रोड स्थित माही रिसोर्ट बुक करवाया। वहां अभी बारात का इंतजार किया जा रहा था। डीजे सिस्टम चालू करके माहौल को संगीतमय बनाया गया। थोड़ी देर बाद आवाज आई कि बारात आ चुकी है और उसके स्वागत के लिए तैयारी चल रही थी कि एक-एक करके पांच हथियारबंद लुटेरे सड़क पार करते हुए माही रिसोर्ट में जा घुसे। लुटेरे कभी हवा में गोलियां चला रहे थे तो कभी पैलेस के मुख्य द्वार की ओर। रिसोर्ट में 300 के करीब मेहमान थे। इस दौरान गोलियों की आवाज से वहां अफरा-तफरी मच गई। यहां से पुलिस लुटेरों का पीछा करते हुए एंटर हुई। उन्होंने विवाह समागम में आए मेहमानों को इशारे के साथ रिसोर्ट खाली करवाया। वहीं लड़की वाले परिवार के लोग भी अलर्ट हो गए थे और उन्होंने भी बाकी लोगों को बाहर भेजा। फिर पुलिस ने घेराबंदी की। अभी बारात सड़क पर ही थी कि मुठभेड़ शुरू हो गई। लुटेरों ने करीब 80 राउंड गोलियां चलाईं। करीब 35 मिनट पुलिस व लुटेरों के बीच मुठभेड़ हुई। इस दौरान चार लुटेरों को घायल हालत में काबू कर लिया गया व पांचवां मृत मिला। आरोपितों को जिंदा पकड़ने के लिए निचले हिस्से में गोलियां मारीं

थाना पट्टी के प्रभारी लखबीर सिंह, सीआइए स्टाफ-2 इंचार्ज सुखराज सिंह सहित एक दर्जन पुलिस कर्मी लुटेरों का मुकाबला कर रहे थे। इस दौरान डीएसपी कुलजिंदर सिंह, कमलजीत सिंह औलख, सुच्चा सिंह बल्ल, रमनदीप सिंह भुल्लर, राजबीर सिंह, इकबाल सिंह, लखविंदर सिंह सहित थाना सिटी, थाना सदर तरनतारन, थाना सदर पट्टी, थाना वल्टोहा, थाना हरिके पत्तन, थाना सरहाली कलां के प्रभारी भी वहां पहुंच गए। पुलिस ने लुटेरों को जिंदा पकड़ने के लिए उनके शरीर के निचले हिस्से पर गोलियां मारी। मुठभेड़ खत्म होने के बाद एसएसपी ने दी नवविवाहित जोड़े को बधाई

मुठभेड़ के बाद लुटेरों को काबू करके अस्पताल पहुंचाने के पश्चात एसएसपी ध्रुमन एच निंबाले ने लड़की व लड़के वालों को विवाह की बधाई देते हुए रिसोर्ट में विवाह समागम शुरू करवाया। नवविवाहित जोड़े के स्वजनों सतनाम सिंह, पाल सिंह, गुरविंदर सिंह, राजिंदर सिंह ने बताया कि लुटेरों का रिसोर्ट में घुसने का पता चलते ही उन्होंने मेहमानों को बाहर भेज दिया था ताकि किसी का जानी नुकसान न हो।

दूल्हा-दुल्हन बोले, नहीं भूलेगा विवाह का यह दिन

आनंद कारज के बाद दुल्हन गुरसिमरन कौर व दूल्हा सरबजोत सिंह लग्जरी कार में रिसोर्ट पहुंचे। उन्होंने कहा कि गोलियों की गूंज से राह जाते लोग भी दहशत में थे। इस नवविवाहित जोड़े ने कहा कि हमें अपना विवाह कभी भूलेगा नहीं। वाहेगुरु जी का शुक्र है कि किसी भी मेहमान को कोई नुकसान नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि पुलिस ने मुस्तैदी बरतते हुए लुटेरों को पकड़ा है, जोकि सराहनीय कार्य है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप