तरनतारन [धर्मबीर सिंह मल्हार]। पाकिस्तान की ओर से भेजे गए एक और Drone की बरामदगी के बाद खुुुुुुफिया एजेंसियों ने पहलेे सक्रिय रहे तरनतारन जिले के 23 आतंकियों की सूची तैयार की है। इनमें से करीब 12 आतंकी ऐसे हैं जो छह माह के दौरान अपने घरों से लगातार गायब रहे हैं और खेमकरण क्षेत्र के गांवों के निवासी हैं। उधर, BSF के DG वीके जौहरी ने शुक्रवार को खालड़ा सेक्टर स्थित भारत-पाक सीमा का दौरा किया और सुरक्षा व्यवस्था कड़ी करने के आदेश दिए।

चोहला साहिब के पास पांच दिन पूर्व खालिस्तान जिंदाबाद फोर्स (KZF) के चार आतंकियों की गिरफ्तारी के बाद पंजाब में फिर से सक्रिय हो रहे आतंकी नेटवर्क को खत्म करने में सुरक्षा एजेंसियां लगी हुई हैैं। खूफिया सूत्रों की मानें तो चोहला साहिब में पकड़े गए आतंकियों द्वारा योजनाबद्ध ढंग से धार्मिक डेरों के साथ ट्रेनों को निशाना बनाने की साजिश रची जा रही है।

पकड़े गए आतंकियों में बाबा बलवंत सिंह निहंग भी शामिल है। वह पंजाब की एक धार्मिक संस्था के साथ वर्षो से जुड़ा हुआ है। उक्त संस्था का नाम आतंकवाद से जुडऩे के बाद खुफिया एजेंसियों ने संस्था से संबंधित तमाम डेरों की पड़ताल शुरू कर दी है। बाबा बलवंत सिंह से पूछताछ के दौरान अटारी क्षेत्र से दूसरा Drone पुलिस के हाथ लगा है। पूछताछ में यह भी सामने आया है कि भारत-पाक अंतरराष्ट्रीय सीमा के साथ सटे करीब एक दर्जन गांवों में ये आतंकी अपना डेरा जमाते रहे हैं। इन गांवों में सेक्टर खेमकरण व खालड़ा के पांच गांव आते हैं। ये वही गांव हैैं जिनसे संबंधित कई आतंकी मारे जा चुके हैं।

जांच के दौरान यह भी पता चला है कि तरनतारन ब्लास्ट के मामले में आस्ट्रेलिया में बैठे गर्मख्याली बिक्रमजीत सिंह पंजवड़ ने पंजाब से संबंधित कम उम्र के युवाओं को खालिस्तान की स्थापना के लिए संगठित करने का बीड़ा उठाया था। पकड़े गए चार आतंकियों से पूछताछ में बब्बर खालसा इंटरनेशनल (BKI) और खालिस्तान कमांडो फोर्स (KCF) से संबंधित कुछ आतंकियों का नाम दोबारा आतंकवाद से जुड़नेे लगा है।

अभी और हथियार मिलने की आशंका

सूत्र बताते हैं कि पाकिस्तान द्वारा खेमकरण इलाके से ही GPS युक्त Drone की मदद से पंजाब में हथियार और गोला बारूद की बड़ी खेप उतारी गई थी। माना जा रहा है कि अभी और हथियार बरामद किए जाने बाकी हैैं। इसके लिए काउंटर इंटेलीजेंस, सीआइडी, आइबी व जिला पुलिस की कई टीमें खेमकरण के गांवों में अपना नेटवर्क मजबूत बनाने में जुटी हैं।

पुलिस प्रशासन पूरी तरह चौकस : वालिया

एसपी (इन्वेस्टिगेशन) जगजीत सिंह वालिया ने बताया कि जिले से संबंधित पहले सक्रिय रहे आतंकियों का रिकॉर्ड पुलिस के पास है। समय-समय पर ऐसे आतंकियों की सरगर्मी बाबत पड़ताल की जाती है। Drone के माध्यम से पाकिस्तान की ओर से हथियार और गोला बारूद की जो सप्लाई हुई है उस बाबत पुलिस प्रशासन पूरी तरह से चौकस है। गैंगस्टरों के नेटवर्क पर भी पुलिस की नजर बनी हुई है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!