जेएनएन, तरनतारन। ससुराल परिवार ने महिला को सिंगापुर भेजा तो वह खुश थी। उसे इसके पीछे की साजिश का अंदाजा भी न था। बाद में जब वह यहां लौटी तो उसके पैरों तले जमीन खिसक गई। दरअसल, उसके पति ने उसे तलाक दिए बगैर दूसरी शादी रचा ली। महिला ने जब उसका विरोध किया तो उसे जान से मारने का प्रयास किया गया। पंडोरी गोला की गुरमीत कौर की शिकायत पर पुलिस ने पति समेत छह लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

गुरमीत कौर ने बताया कि पांच वर्ष पहले उसका विवाह गांव कैरों निवासी गुरलाल सिंह के साथ हुआ था। विवाह के बाद 25 सितंबर 2014 को ससुरालवालों ने गुरमीत कौर का दो वर्ष लिए सिंगापुर का वीजा लगवा दिया। एक वर्ष में ही वह वापस आ गई। फिर 30 जून 2016 को उसे सिंगापुर भेज दिया। 28 अक्टूबर 2017 को गुरमीत कौर को तीसरी बार सिंगापुर भेज दिया गया। 2 अक्टूबर 2019 को गुरमीत कौर ससुराल लौट आई।

गुरलाल सिंह उसे लेने के लिए एयरपोर्ट आया और अगले दिन बहानेबाजी करके मायके भेज दिया। कुछ दिन बाद वह जब ससुराल घर पहुंची तो गुरलाल ने उसे वापस जाने के लिए कहा। उसने कहा कि उसके पति ने उसे बिना तलाक दिए दूसरा विवाह कर लिया था। ऐसे में वह मायके लौट आई।

उसका आरोप था कि 24 नवंबर की सुबह पांच बजे उसके पति गुरलाल सिंह, देवर गुरजंट सिंह, अमरीक सिंह, सास बलविंदर कौर और ससुर गुरभेज सिंह व एक अन्य महिला जसबीर कौर मायके घर आए और उसके गले में रस्सी डालकर फंदा लगाने का प्रयास किया।

गुरमीत कौर द्वारा शोर मचाने पर आरोपित फरार हो गए। सिविल अस्पताल में उपचाराधीन महिला ने पुलिस को बयान दर्ज करवाते हुए बताया कि सिंगापुर में काम करते समय उसने अपने पति के बैैंक खाते में 12 लाख डाले थे। डीएसपी सुच्चा सिंह बल ने बताया कि एएसआइ सविंदर सिंह ने महिला के बयान दर्ज करके आरोपितों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!