जेएनएन, तरनतारन। सीआइए स्टाफ की टीम ने लूटपाट करने वाले पंद्रह सदस्यीय गिरोह का भंडाफोड़ करते हुए पांच सदस्यों को गिरफ्तार किया है। आरोपितों के कब्जे से दो राइफलें 12 बोर समेत चार कारतूस 12 बोर, एक पिस्तौल (देसी कट्टा 12 बोर) समेत एक जिंदा कारतूस 12 बोर, दो बिना नंबर की चोरी की मोटरसाइकिल व दातर बरामद हुआ है। फिलहाल पुलिस ने पकड़े गए आरोपितों को अदालत में पेश करके दो दिन के रिमांड पर लिया है। फरार दस सदस्यों को भी नामजद कर लिया गया है। सभी आरोपित तरनतारन के हैं।

एसपी (इन्वेस्टीगेशन) जगजीत सिंह वालिया ने बताया कि सीआइए स्टाफ के इंस्पेक्टर हरित शर्मा और सब इंस्पेक्टर मनमोहन सिंह की अगुआइ वाली टीम को सूचना मिली कि कुछ लोग गांव छापा में एकत्रित होकर लूटपाट की योजना बना रहे है। टीम ने छापामारी कर गिरोह के पांच सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ के दौरान आरोपितों ने बताया कि गिरोह के 10 और सदस्य भी हैं।

आरोपितों की पहचान जरनैल सिंह उर्फ जेला निवासी गांव जीयोबाला, सिकंदर सिंह उर्फ खंडू निवासी गगोबूहा, गुरनेक सिंह उर्फ नेका निवासी गांव सोहल, चमकौर सिंह निवासी गांव गगोबूहा और राजविंदर सिंह उर्फ राजन निवासी गांव बुर्ज के रूप में हुई। एसपी वालिया ने बताया कि फरार आरोपितों की पहचान जगजीत सिंह उर्फ आइजी निवासी गांव पधरी, यादा निवासी गगोबूहा, गुरसाहिब सिंह निवासी गांव भोजिया, कालू, लवप्रीत निवासी गांव जीयोबाला, गुरचेत सिंह उर्फ काका निवासी गांव भूरेगिल, सोनू, मोनू निवासी गांव शेख, जसपाल सिंह निवासी गांव भोजिया और संधू निवासी शेख शामिल है।

आरोपितों ने यह वारदातें कबूली

आरोपितों ने माना कि गांव डल्ल के स्कूल में पढ़ाते मास्टर की मारपीट करके मोबाइल और नकदी लूटी, गांव कोट धर्म चंद कलां निवासी एक व्यक्ति से हथियारों की नोक पर 36 हजार रुपये छीने, गांव सोहल के पास युवक से हथियारों की नोक पर मोबाइल लूटा, गांव सोहल के एक घर में दाखिल होकर सोने के आभूषण और नकदी चुराई, अमृतसर इंडिया गेट खासे रोड से मोटरसाइकिल सवार से मोबाइल और 1500 रुपये की नकदी छीनी।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Kamlesh Bhatt

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!