जागरण संवाददाता, तरनतारन : कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव को रोकने लिए प्रदेश भर में लगे क‌र्फ्यू के दौरान लोगों को सभी जरूरी वस्तुएं लोगों के घर तक पहुंचाई जा रही हैं। डिप्टी कमिश्नर प्रदीप सभ्रवाल ने बताया कि स्त्री व बाल विकास विभाग की ओर से आंगनबाड़ी सेंटरों में पढ़ने वाले बच्चों को उनकी खुराक आंगनबाड़ी वर्करों द्वारा घर-घर पहुंचाई जा चुकी है। इसके अलावा गर्भवती महिलाओं व माताओं को भी उनकी खुराक घर तक पहुंचाई जा रही है। जिला प्रोग्राम अफसर मनजिंदर सिंह ने कहा कि खुराक को बांटने के अलावा समूह सीडीपीओ व आंगनबाड़ी वर्करों द्वारा कोरोना वायरस जैसी खतरनाक बीमारी से बचने लिए जागरूक किया जा रहा है। डीसी प्रदीप सभ्रवाल ने कहा कि क‌र्फ्यू में अगर किसी भी निजी अस्पताल ने कोरोना वायरस के डर कारण ओपीडी सेवा बंद की, तो उसका लाइसेंस रद कर दिया जाएगा और कानूनी कार्रवाई की जाएगी। समूह एसडीएम की अगुआई में सेहत विभाग के अधिकारियों की टीमों को इस बारे में लगातार चेकिंग करने लिए आदेश दिए हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!