तरनतारन [धर्मबीर सिंह मल्हार]। भाजपा की पंजाब प्रदेश उपाध्यक्ष सरबजीत कौर बाठ के खिलाफ तरनतारन पुलिस ने दस लाख की ठगी करने का मामला दर्ज किया है। यह मामला अकाली-भाजपा सरकार के समय सामने आया था। उस समय इस पर पुलिस ने कार्रवाई नहीं की थी। पीड़ित द्वारा अब उच्चाधिकारियों से गुहार लगाए जाने के बाद एफआइआर दर्ज की गई है।

पंजाब रोडवेज के सेवामुक्त कर्मी सरूप सिंह ने मोहल्ला नानकसर में मकान खरीदने लिए बीबी सरबजीत कौर बाठ के साथ सौदा किया था। बीबी बाठ नगर सुधार ट्रस्ट तरनतारन की पूर्व चेयरपर्सन भी रह चुकी हैं। सरूप सिंह से दस लाख की राशि वसूल की और रजिस्ट्री नहीं की, जिसके बाद सरूप सिंह ने इसकी शिकायत पुलिस को दी। यही नहीं भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विजय सांपला को भी इसकी जानकारी दी गई। लेकिन, उसकी शिकायत पर कार्रवाई नहीं हुई, बल्कि पार्टी अध्यक्ष ने बाठ को नगर सुधर ट्रस्ट तरनतारन का चेयरपर्सन बना दिया।

चेयरपर्सन बनने पर बाठ का विरोध करते हुए भाजपा के जिला अध्यक्ष नवरीत सिंह सफीपुर ने पदाधिकारियों के साथ इस्तीफा भी दे दिया था। अकाली-भाजपा सरकार में पुलिस ने मामले में कोई कार्रवाई नहीं की। अह जाकर थाना सिटी तरनतारन की पुलिस ने बीबी सरबजीत कौर बाठ के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है।

यह भी पढ़ें: महिला ने पहले पति को दी नशीली दवा, फिर उसके दो दोस्तों के साथ कर ली खुदकशी

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!