जागरण संवाददाता, तरनतारन : पंडोरी गोला की गुरमीत कौर ने अपने पति गुरलाल सिंह समेत छह लोगों पर जानलेवा हमला करने का मामला दर्ज करवाया है, सभी आरोपित पुलिस गिरफ्त से बाहर है।

गुरमीत कौर ने बताया कि पांच वर्ष पहले उसका विवाह गांव कैरों निवासी गुरलाल सिंह के साथ हुआ था। विवाह के बाद 25 सितंबर 2014 को ससुरालवालों ने गुरमीत कौर का दो वर्ष लिए सिंगापुर का वीजा लगवा दिया। 30 जून को उसे सिंगापुर भेज दिया, वहां एक वर्ष तक रहने के बाद वह लौट आई। 28 अक्टूबर 2017 को गुरमीत कौर को दोबारा सिंगापुर भेज दिया। 2 अक्टूबर 2019 को गुरमीत कौर ससुराल लौट आई। गुरलाल सिंह उसे लेने के लिए एयरपोर्ट आया और अगले दिन बहानेबाजी करके मायके भेज दिया। कुछ दिन बाद वह जब ससुराल घर पहुंची, तो गुरलाल सिंह ने उसे वापस जाने के लिए कहा। गुरलाल सिंह ने पत्नी को तलाक दिए बिना दूसरा विवाह करवा लिया। गुरमीत कौर ने बताया कि वह मायके लौट आई।

24 नवंबर की सुबह पांच बजे उसके पति गुरलाल सिंह, देवर गुरजंट सिंह, अमरीक सिंह, सास बलविंदर कौर और ससुर गुरभेज सिंह मायके घर आए और उसके गले में रस्सी डालकर फंदा लगाने का प्रयास किया। गुरमीत कौर द्वारा शोर मचाने पर आरोपित फरार हो गए। सिविल अस्पताल में उपचाराधीन महिला ने पुलिस को बयान दर्ज करवाते हुए बताया कि सिंगापुर में काम करते समय उसने अपने पति के बैंक खाते में 12 लाख की राशि डलवाई थी। डीएसपी सुच्चा सिंह बल ने बताया कि एएसआइ सविंदर सिंह ने महिला के बयान दर्ज करके आरोपितों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!