जासं, तरनतारन : अमृतसर से खेमकरण के बीच चलने अब ट्रेन 90 किलोमीटर नहीं बल्कि 120 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से दौड़ेगी। इससे यात्रियों का जहां समय बचेगा, वहीं इस मार्ग के बिजलीकरण का चल रहा कार्य भी जल्द 100 फीसद मुकम्मल हो जाएगा। अमृतसर से खेमकरण के बीच डीएमयू गाड़ी फिल्हाल दिन में चार बार चलती है। आने वाले दिनों में यह गाड़ी आठ बार दौड़ेगी। 90 किलोमीटर प्रति घंटे के हिसाब से चलने वाली डीएमयू गाड़ी की स्पीड बढ़ाने के लिए रेलवे विभाग द्वारा लंबे समय से बिजलीकरण किया जा रहा है।

तरनतारन से पट्टी तक 22 किलोमीटर व पट्टी से खेमकरण का सफर 35 किलोमीटर है। इसके बिजलीकरण के लिए युद्ध स्तर पर काम चल रहा है। छह कोच वाली डीएमयू रेल गाड़ी की स्पीड 90 किलोमीटर प्रति घंटा से बढ़ाकर 120 किलोमीटर की जा रही है।

डीआरएम सीमा रानी ने दैनिक जागरण को बताया कि यात्रियों को बेहतर सुविधाएं देने के लिए डीएमयू के दो कोच ओर बढ़ाए जाएंगे। उन्होंने बताया कि अमृतसर से तरनतारन तक की रेल पटरी का बिजलीकरण हो चुका है। तीन महीने में बाकी का अधूरा काम पूरा होते ही डीएमयू गाड़ी की रफ्तार 120 किलोमीटर प्रति घंटा हो जाएगी। जनवरी महीने से रेल गाड़ी की स्पीड यकीनी तौर पर बढ़ जाएगी।

Edited By: DHARAMBIR SINGH MALHAR

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट