संवाद सहयोगी, तरनतारन : पुलिस ने 2012 में हुए हत्या केस के मुख्य आरोपित को गिरफ्तार किया है। अदालत में पेश न होने पर आरोपित को 2013 में भगोड़ा घोषित किया था। आरोपित को पुलिस ने अदालत में पेश कर रिमांड पर ले लिया है।

इस बारे में एसपी (आइ) जगजीत सिंह वालिया ने बताया कि पुलिस पार्टी ने सिकंदरजीत सिंह निवासी गांव धारीवाल को काबू किया है। सिकंदरजीत सिंह ने 21 मई 2012 की रात को अपने साथियों गुरजंट सिंह, प्रगट सिंह, मक्खन सिंह, गुरदेव सिंह, प्रभजीत सिंह और अमनदीप सिंह (सभी निवासी गांव धारीवाल) के साथ मिलकर गांव के ही रहने वाले तरसेम सिंह पर हथियारों से हमला कर दिया था। छह जून 2012 को तरसेम सिंह ने सिविल अस्पताल पट्टी में उपचार दौरान दम तोड़ दिया। थाना सदर पट्टी पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ हत्याओं की धाराओं तहत केस दर्ज किया था। अदालत में पेश न होने पर सिकंदरजीत सिंह को सीडीजेएम पट्टी प्रितपाल सिंह ने 25 मार्च 2013 को भगोड़ा करार दिया था। केस में नामजद गुरजंट सिंह, प्रगट सिंह, मक्खन सिंह और गुरदेव सिंह को पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है। जबकि प्रभजीत सिंह और अमनदीप सिंह दोनों अभी भगोड़े चल रहे हैं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!