जागरण संवाददाता, बरनाला : शिअद को बादल पिता-पुत्र की जोड़ी ने खुद के फैसले लेकर सीनियर नेताओं को शिअद में से बाहर करके शिरोमणि अकाली दल को खत्म कर रहे हैं, परन्तु ढींडसा परिवार शिअद के अस्तित्व को बचाने के लिए सिद्धांतों की लड़ाई लड़ी जा रही है।

उक्त बात पूर्व वित्त मंत्री विधायक परमिन्दर सिंह ढींडसा ने पत्रकारों से कही। उन्होंने कहा कि ढींडसा परिवार कुर्सियों या सत्ता प्राप्ती की लड़ाई नहीं लड़ रहा, बल्कि सिद्धांतों की लड़ाई लड़के बादल पिता पुत्र से शिअद व शिरोमणि कमेटी को मुक्त करवाने के लिए लड़ाई लड़ रहे है। उन्होंने कहा कि लोकतांत्रिक ढंग के साथ शिअद में आवाज बुलंद करने वाले नेताओं की बात सुनने की बजाय बादलों द्वारा अपने आप फैसले लेकर शिअद को खत्म करने का काम किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि ढींडसा परिवार का बादलों के साथ समझौता होने का सवाल ही पैदा नहीं होता, इसलिए अब पूरे पंजाब का दौरा करके शिअद को मजबूत करने के लिए एक नई मुहिम शुरु की जा रही है। उन्होंने शिअद व पंथ को बचाने के लिए टकसाली व इंसाफ पसंद लोगों को साथ देने की अपील की। इस अवसर पर समाज सेवी सुरजीत सिंह छीनीवाल ,यूथ नेता रमी ढिल्लों, जिला प्रधान जगसीर सिंह सीरा छीनीवाल आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!